धोनी, टेस्ट कैप्टन विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे टीम इंडिया के महान प्लेयर्स में शुमार हैं। ये स्टार्स आए दिनों किसी न किसी वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं। अब इनकी सुर्खियों का कारण है स्टार प्लस चैनल। जी हां उनका एक वीडियो चैनल पर आया है, जिसमें उन्होंने अपनी जर्सी बदल दी है। बताना चाहते है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेल रही टीम इंडिया के खिलाड़ियों में टीवी पर आपको तीन नए नाम दिख सकते हैं। ये नाम हैं, देवकी, सरोज और सुजाता। देवकी की जर्सी का नंबर है 7, सरोज का नंबर है 18 और सुजाता का नंबर है 27। Also Read - एक समय थे PUBG के बादशाह अब धोनी का हाथ हो गया है तंग, साथी खिलाड़ी ने बताई पूरी कहानी

अगर आपको लग रहा है कि इन खिलाड़ियों की जर्सी का नंबर आपने कहीं देखा है तो आप बिल्कुल सही हैं। 7 नंबर की जर्सी वनडे टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी पहनते हैं, 18 नंबर की जर्सी है विराट कोहली की और 27 नंबर है अजिंक्य रहाणे का। पर इन्हीं नंबरों की जर्सियों के इन नए खिलाड़ियों को टीम इंडिया में शामिल करने की एक खास वजह है। यह भी पढ़े-एम एस धोनी बने दुनिया के दूसरे सबसे ज्यादा वनडे मैच जिताने वाले कप्तान Also Read - Wisden Cricketer Of The Year: लगातार 3 साल शीर्ष पर रहने के बाद विराट कोहली से छिना ताज, इंग्लिश खिलाड़ी को मिला मौका

इस वीडियो में एक की जर्सी पर लिखा है ‘देवकी’ तो दसूरे में सरोज और तीसरी में सुजाता। वीडियो में एक पत्रकार धोनी से पूछता है कि आपने यह कैसी टी-शर्ट पहन रखी है। इस पर आपका नाम तो लिखा ही नहीं है। इस बात पर धोनी जवाब देते हैं कि यह मेरी मां का नाम है ‘देवकी’।
Also Read - युवराज सिंह ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया : आशीष नेहरा

इसके बाद एक सवाल फिर पूछा जाता है कि क्या इसके पीछे कोई खास वजह है, तो वह जवाब देते हैं कि इतने सालों से वह अपने पिता के नाम की टी-शर्ट पहन रहे थे तब आपने नहीं पूछा कि इसके पीछे क्या कारण है। उनका यह जवाब मिलते ही सन्नाटा छा जाता है और लोग तालियां बजाने लगते हैं। बस उन्होंने अपनी-अपनी मां के नाम की जर्सी पहनी है।

विराट कोहली की जर्सी पर उनकी मां सरोज का नाम लिखा है।  इस पर विराट कोहली यह कहते हुए नज़र आ रहे हैं, ”आप सोचते होंगे यह नाम किसका है, मेरा ही है,आज मैं जो भी हूं, मम्मी की वजह से ही तो हूं… तो जाहिर सी बात है, मेरी पहचान भी सिर्फ पापा के नाम से क्यों…? जितना कोहली हूं, सरोज भी हूं, है या नहीं.” यह भी पढ़े-धोनी के बड़े भाई नरेन्द्र सिंह को लेकर फेसबुक पर जमकर हो रही है चर्चा

दरअसल, यह एक मनोरंजन टीवी चैनल के प्रमोशन का आइडिया है, जिसमें तीनों खिलाड़ी अपनी मां के साथ अपने जुड़ाव की कहानी बताते हैं। रहाणे अपने बचपन की कहानी बताते हैं कि कैसे उनकी प्रैक्टिस के दौरान उनकी मां उनके किटबैग और छोटे भाई को गोद में लेकर जाती थीं। इससे उनकी मां की खूब कसरत हो जाती थी। रहाणे कहते हैं, ‘लोग कहते हैं कि बाप का नाम रोशन करो, लेकिन मेरे लिए मां का नाम रोशन करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है।’ वीडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करें।