हाल में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni)  ने 5 राफेल लड़ाकू विमानों (Rafale Jets) के अंबाला वायु स्थल पर एक समारोह में औपचारिक तौर पर भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के 17 स्क्वाड्रन में शामिल किए जाने पर खुशी व्यक्त की है.Also Read - इजराइल के दौरे पर वायु सेना प्रमुख, इन मुद्दों पर होगी वार्ता

धोनी इस समय इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें एडिशन की तैयारी में जुटे हुए हैं.  इस बार आईपीएल का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में आयोजित होगा.  आईपीएल में धोनी को चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) की कप्तानी करनी है. Also Read - Friendship Day 2021: युवी ने ‘शोले फिल्‍म’ के गाने पर बनाया विशेष वीडियो, MS Dhoni को नजरअंदाज करने पर कुछ यूं हुए ट्रोल

धोनी बोले-आईएएफ पायलटों के हाथों में आकर इस शक्तिशाली विमान की मारक क्षमता और बढ़ेगी Also Read - Farah Khan ने पांच बार बदलवाए Mahendra Singh Dhoni के कपड़े! ये रही वजह, बोलीं-उन्होंने शिकायत नहीं...

आईसीसी के तीनों बड़े टूर्नामेंट जीतने वाले दुनिया के इस इकलौते पूर्व कप्तान ने राफेल लड़ाकू विमानों का स्वागत करते हुए कहा कि ‘आईएएफ पायलटों के हाथों में आकर इस शक्तिशाली विमान की मारक क्षमता और बढ़ेगी. ’


ऐसा भी समय आता है जबकि प्रादेशिक सेना के इस लेफ्टिनेंट कर्नल के लिए क्रिकेट दोयम बन जाता है.  वह सेना से जुड़ी किसी भी चीज से बेहद अपनत्व रखते हैं.  धोनी ने ट्वीट किया, ‘युद्ध में खुद को साबित कर चुके दुनिया के सर्वश्रेष्ठ 4.5 पीढ़ी के लड़ाकू विमानों के शामिल होने के साथ ही उन्हें विश्व के सर्वश्रेष्ठ फाइटर पायलट भी मिल गए हैं.  हमारे पायलटों के हाथों ओर भारतीय वायुसेना के अलग अलग विमानों के बीच इस शक्तिशाली विमान की मारक क्षमता और बढ़ेगी.’

सुखोई 30 एमकेआई मेरा पसंदीदा विमान बना रहेगा : धोनी 

इन विमानों में भारतीय वायुसेना में शामिल करने के लिए आयोजित समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) और उनकी फ्रांसीसी समकक्ष फ्लोरेंस पार्ली ने हिस्सा लिया. धोनी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘गौरवशाली 17 स्क्वाड्रन (गोल्डन एरोज) को शुभकामनाएं देता हूं और हम सभी को उम्मीद है कि राफेल मिराज 2000 का सेवा रिकॉर्ड पीछे छोड़ने में सफल रहेगा लेकिन सुखोई 30 एमकेआई मेरा पसंदीदा विमान बना रहेगा.