नई दिल्ली : राजस्थान रॉयल्स के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आठ रनों से हार झेलने के बाद माना कि महेंद्र सिंह धोनी को आउट करना गेंदबाजों के लिए मुश्किल काम है. उनकी दमदार बल्लेबाजी ही मुकाबले में मेहमान टीम को दूर ले गई. एम.ए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में एक समय चेन्नई का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 27 रन था और यहां से धोनी ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और नाबाद 75 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को 175 तक ले गए.

मैच के बाद रहाणे ने कहा, “इस हार का कारण हमारी खराब बल्लेबाजी रही. हम एक टीम के रूप में जीतते हैं और हम एक टीम के रूप में हारते हैं. अगर हम टी 20 में छोटे क्षणों को जीतते हैं तो हम अच्छा करेंगे. हमने पिछले तीन मैचों में अच्छा खेला है और उम्मीद है कि थोड़ी अच्छी किस्मत के साथ हम इसे बदल पाएंगे.”

IPL 2019: पंत की आवाज स्टम्प माइक में कैद, फैन्स ने कहा मैच था फिक्स

रहाणे ने कहा, “जब धोनी बल्लेबाजी करते हैं तब गेंदबाजों के लिए मुश्किलें पैदा हो जाती है. छह ओवर के बाद गेंदबाजों के लिए गेंद को पकड़ना मुश्किल हो रहा था, यहां तक की तेज गेंदबाजों को भी. लेकिन चेन्नई ने अच्छी गेंदबाजी की और विकेट चटकाए.”

चेन्नई में धोनी की रिकॉर्ड तोड़ बैटिंग, माही के छक्कों से परेशान हुए राजस्थान के बॉलर्स

बता दें कि राजस्थान के खिलाफ खेले गए इस मुकाबले में चेन्नई ने पहले बैटिंग करते हुए 175 रन बनाए. इस दौरान धोनी ने 46 गेंदों का सामना करते हुए 4 चौकों और 4 छक्कों की मदद से नाबाद 75 रन बनाए. जबकि इसके जवाब में उतरी राजस्थान की टीम 167 रन ही बना पायी. इस तरह मैच चेन्नई ने जीत लिया. टीम की इस जीत में धोनी की अहम भूमिका रही. उनकी रणनीति काम आयी.