रांची: पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आस्ट्रेलिया के खिलाफ बाकी बचे दो एकदिवसीय मैचों के लिये विश्राम दिया गया है और शुक्रवार को यहां खेला गया मैच भारतीय सरजमीं पर उनका अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच साबित हो सकता है. भारत के सहायक कोच संजय बांगड़ ने तीसरे एकदिवसीय मैच में भारत की 32 रन से हार के बाद पत्रकारों से कहा, ‘‘हम अंतिम दो मैचों के लिये कुछ बदलाव करेंगे. माही अंतिम दो मैचों में नहीं खेलेंगे. वह विश्राम करेंगे.’’

विराट कोहली ने बतौर कप्तान मचाई धूम, वनडे क्रिकेट में बनाया नया वर्ल्ड रिकॉर्ड

श्रृंखला का चौथा मैच दस मार्च को मोहाली जबकि पांचवां और अंतिम मैच 13 मार्च को नयी दिल्ली में खेला जाएगा. भारत को अब अक्टूबर तक अपनी सरजमीं पर कोई मैच नहीं खेलना है और ऐसे में कहा जा रहा है कि रांची का मैच धोनी को भारतीय धरती पर आखिरी मैच हो सकता है. माना जा रहा है कि विश्व कप के बाद यह स्टार क्रिकेटर संन्यास ले सकता है.

धोनी का ‘इलाका’, विराट का ‘धमाका’, दुनिया ने देखा ‘तमाशा’

झारखंड राज्य क्रिकेट संघ का हालांकि मानना है कि उन्हें अगले घरेलू सत्र में सीमित ओवरों के एक मैच की मेजबानी मिल जाएगी जिसमें धोनी उचित विदाई ले सकते हैं. धोनी प्रचार से बचते हैं और ऐसी संभावना बहुत कम है. धोनी ने हैदराबाद में पहले मैच में नाबाद 59 रन बनाकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभायी थी लेकिन पिछले दो मैचों में वह शून्य और 26 रन ही बना पाये. धोनी की अनुपस्थिति में अंतिम दो वनडे में ऋषभ पंत विकेटकीपर की भूमिका निभाएंगे.