नई दिल्ली. शोएब अख्तर, ये नाम है क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज और खतरनाक पाकिस्तानी गेंदबाज का. क्रिकेट छोड़े शोएब अख्तर को तो टाइम हो गया है. लेकिन, पाकिस्तान क्रिकेट टीम में अब एक और शोएब अख्तर की वापसी हो चुकी है. इन्हें आप जूनियर शोएब अख्तर का नाम दे सकते हैं. उम्र 18 साल और नाम मोहम्म हसनैन. पर, नाम में क्या रखा है. इस युवा पाकिस्तानी गेंदबाज का काम बोल रहा है. अपनी रफ्तार से ये शोएब अख्तर की याद दिला रहा है और बल्लेबाजों के होश उड़ा रहा है. Also Read - IPL 2020, RR vs KXIP Records: राजस्थान रॉयल्स ने रचा इतिहास, चेस कर डाला IPL का सबसे बड़ा स्कोर; विलेन से हीरो बने तेवतिया

धोनी के ‘दोस्त’ ने ऑस्ट्रेलिया को चेताया! Also Read - IPL 2020 RR vs KXIP: मयंक अग्रवाल ने की राजस्थान के गेंदबाजों की जमकर धुनाई, सबसे तेज IPL शतक बनाने वाले दूसरे भारतीय बने

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 वनडे की सीरीज के लिए पाकिस्तान ने जो अपनी वनडे टीम चुनी है उसमें उसने मोहम्मद हसनैन को जगह दी है. भारत में वनडे सीरीज जीतने के बाद पाकिस्तान से सीरीज खेलने के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम इस वक्त UAE में है. और, वहीं से क्रिकेट खेलकर आए धोनी के एक दोस्त ने कंगारू टीम को ये संदेश दिया है कि जरा पाकिस्तान की युवा सनसनी से वो बचकर रहें. धोनी के ये दोस्त हैं पूर्व ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन, जो IPL में चेन्नई की टीम का हिस्सा हैं और पाकिस्तान के खिलाफ अपने देश की टीम का हित सोच रहे हैं. Also Read - परिवार में हुई ट्रेजडी के बाद भी दिल्ली के खिलाफ खेले शेन वाटसन; CSK फैंस ने कहा 'सच्चा योद्धा'

पाकिस्तान का नया ‘शोएब अख्तर’!

पाक के युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद हसनैन का सबसे बड़ा हथियार है उनकी 150kmph से भी ज्यादा की रफ्तार. और, यही वजह है कि वॉटसन उन्हें ऑस्ट्रेलिया के लिए बड़ा खतरा मान रहे हैं. बता दें कि पाकिस्तान सुपर लीग में वॉटसन और हसनैन दोनों एक ही क्वेटा ग्लैडियेटर्स के लिए खेलते हैं. वॉटसन के मुताबिक, ‘उन्होंने 18 साल के किसी दूसरे गेंदबाज को इतनी रफ्तार से गेंदबाजी करते नहीं देखा. UAE की पिचों पर वो ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए बड़ा सिरदर्द बन सकते हैं क्योंकि रफ्तार के साथ उन्हें अपनी लेंथ पर कंट्रोल है, उनके पास वैरिएशन है और उनकी स्विंग भी धारदार है.”

पाकिस्तान की युवा सनसनी

PSL के फाइनल में 30 रन देकर 3 विकेट चटकाने वाले हसनैन प्लेय़र ऑफ द मैच बने थे और अपनी टीम को जिताने में अहम किरदार निभाया था. पूरे टूर्नामेंट में उन्होंने 17.58 की औसत और 7.53 की इकॉनोमी से 12 विकेट लिए . उन्होंने लगातार 145kmph की रफ्तार से गेंद फेंकी और जरुरत पड़ने पर 150kmph का कांटा भी पार किया. PSL में उम्दा प्रदर्शन के बाद मोहम्मद हसनैन को पाकिस्तान की नेशनल टीम में तो जगह मिल गई. लेकिन अब उनकी नजर वर्ल्ड कप के टिकट पर भी जम गई है. जाहिर है इसके लिए वो ऑस्ट्रेलियाई टीम को टारगेट करेंगे.