भारतीय टीम के पूर्व चयनकर्ता एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने पहली बार अनुष्‍का शर्मा (Anushka Sharma) को चाय सर्व किए जाने वाले फारुख इंजीनियर (Farokh Engineer) के बयान पर अपनी चुप्‍पी तोड़ी. विश्‍व कप 2019 के दौरान इंजीनियर ने प्रसाद के नेतृत्‍व वाली चयनसमिति की काबिलियत पर सवाल उठाते हुए विवादित बयान दिया था. पेश मामले में अनुष्‍का शर्मा ने भी करारा जवाब दिया था.Also Read - IND vs ENG: डरहम की मुख्य पिच पर टीम इंडिया ने की प्रैक्टिस, Rishabh Pant ने भी चलाया बल्ला

एसएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने साल 2016 से 2019 तक भारतीय टीम के मुख्‍य चयनकर्ता के रूप में अपनी सेवाएं दी। इस दौरान वो कई विवादों से भी घिरे रहे। उन्‍हें अक्‍सर विराट कोहली और रवि शास्‍त्री की जोड़ी के सामने घुटने टेकने के लिए भी काफी आलोचना झेलनी पड़ी है। Also Read - शोएब अख्तर ने बताया, 'विराट कोहली से आगे निकलने' के लिए क्या करें बाबर आजम

विराट कोहली की पत्‍नी अनुष्‍का शर्मा (Anushka Sharma) से जुड़े वाक्‍ये के दो साल बाद अब एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) की तरफ से इसपर जवाब दिया गया है. प्रसाद ने एक इंटरव्‍यू के दौरान कहा, “भारतीय क्रिकेट में चयनकर्ताओं की भूमिका काफी मुश्किल है क्‍योंकि बेहद कम ऐसा होता है जब टीम की तरक्‍की का श्रेय उन्‍हें मिला हो. किसी खिलाड़ी को टीम में चुनने और खराब प्रदर्शन करने वाले किसी अन्‍य खिलाड़ी को ड्रॉप करने पर चयनकर्ताओं की काफी आलोचना होती है.” Also Read - India tour of England: अभ्यास मैच में चोटिल हुए भारतीय खिलाड़ी; स्क्वाड में केवल 22 फिट क्रिकेटर मौजूद

एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने कहा, “बिना किसी कारण के ही चयनसमिति को अनुष्‍का शर्मा ( Anushka Sharma) के साथ विवादों में ढकेल दिया गया. टीम इंडिया ने ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर बिना किसी बड़े खिलाड़ी की मौजूदगी के टेस्‍ट सीरीज में जीत दर्ज की. उस वक्‍त किसी ने भी चयनसमिति को इसका श्रेय नहीं दिया. बाहरी लोग हमारे योगदान को नहीं पहचानते लेकिन अंदरूनी सर्कल से जुड़े लोगों को पता है कि हमने क्‍या काम किया है.”