विश्‍व कप (ICC World Cup 2020) का मंच हो तो हर कोई भारत और पाकिस्‍तान (India vs Pakistan) जैसी बड़ी टीमों के मैचों को देखना पसंद करता है. नॉकआउट स्‍टेज पर इन दोनों टीमों की भिड़त का मजा और भी ज्‍यादा हो जाता है. विंडीज के खिलाफ इस थ्‍योरी पर विश्‍वास नहीं रखते. पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर मुश्ताक अहमद ने कहा कि वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने उनसे कहा था कि भारत पाकिस्तान को नॉकआउट में क्वालीफाई करते नहीं देखना चाहते.Also Read - Shaheen Afridi के लिए T20 WC में भारत के खिलाफ प्रदर्शन है सबसे यादगार, रोहित का विकेट सबसे अहम

पाकिस्तानी न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान मुश्ताक ने कहा, “मैं उस समय वेस्टइंडीज टीम के साथ काम कर रहा था. भारत की हार के बाद जेसन होल्डर, क्रिस गेल और आंद्रे रसेल ने मुझसे कहा कि मुशी भारत, पाकिस्तान को सेमीफाइनल में जाते हुए नहीं देखना चाहता.” Also Read - IPL Auction 2022: मेगा ऑक्शन में हिस्सा नहीं लेंगे बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर, क्रिस गेल

पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज सिकंदर बख्त ने हाल में ट्विटर पर दावा किया था कि इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने अपनी नई किताब ‘बेन स्टोक्स ऑन फायर’ में कहा है कि पाकिस्तान को विश्व कप से बाहर करने के लिए भारत जानबूझकर इंग्लैंड से हारा था. Also Read - T20 World Cup 2022 Full schedule: फिर होगी भारत-पाकिस्तान के बीच 'हाई वोल्टेज भिड़ंत', यहां जानिए पूरा शेड्यूल

बख्त ने ट्विटर पर लिखा था, “बेन स्टोक्स ने अपनी नई किताब में लिखा है कि पाकिस्तान को विश्व कप से बाहर करने के लिए भारत जानबूझकर इंग्लैंड से हारा था और हमने इसकी भविष्यवाणी की थी.”

बेन स्‍टोक्‍स ने इस ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, “आप इसे ढूंढ नहीं पाएंगे, क्योंकि मैंने ऐसा कभी कहा ही नहीं. इसे ही तो कहते हैं शब्दों के साथ खेलना या क्लिक बेट.”

पिछले साल 30 जून को एजबेस्टन में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए करो या मरो के मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 338 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था, इसके जवाब में भारत पांच विकेट पर 306 रन ही बना सका था और 31 रन से मैच हार गया था.

पाकिस्‍तान के खिलाड़ी उस समय में भी आरोप लगा रहे थे कि भारत जानबूझ कर हारा ताकि पाकिस्‍तान को सेमीफाइनल में पहुंचने से रोका जा सके.