इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन (Nasser Hussain) ने कहा है कि टीम के मौजूदा बल्लेबाज जो डेन्ली (Joe Denly) को अगर बड़ा स्कोर करना है तो उन्हें अपनी तकनीक में बदलाव करना होगा नहीं तो वो टीम में से अपनी जगह गंवा सकते हैं। हुसैन ने ऐसा करने के लिए डेन्ली को भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) का उदाहरण दिया। Also Read - ENG vs PAK: दूसरे टेस्‍ट के लिए इंग्‍लैंड की टीम का ऐलान, बेन स्‍टोक्‍स की जगह लेगा ये गेंदबाज

हुसैन ने डेली मेल में अपने कॉलम में लिखा, “एक और उदाहरण कोहली का है। जब वो 2014 में इंग्लैंड आए थे, वो जेम्स एंडरसन की गेंद पर बार-बार बल्ले का किनारा देकर आउट हो रहे थे। Also Read - IPL 2020: दक्षिण अफ्रीका,ऑस्ट्रेलिया के बाद इंग्लिश क्रिकेटर भी नहीं होंगे शुरुआती मैचों का हिस्सा

उन्होंने कहा, “दो साल पहले, वो अपनी क्रीज के बाहर खड़े हुए और गेंद को स्विंग होने से पहले ही खेलने लगे। इसका परिणाम शानदार रहा और उन्होंने एजबेस्टन में शतक जमाया। डेन्ली को मानना पड़ेगा कि बदलाव करना होगा, चाहे इसके साथ थोड़ा जोखिम क्यों नहीं आए।” Also Read - Eng vs Pak, 2nd Test: बेन स्टोक्स के बिना सीरीज पर कब्जा करने की कोशिश करेगी इंग्लैंड

डेन्ली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में 58 गेंदों का सामना किया और सिर्फ 18 रन बनाकर शैनन गैब्रिएल का शिकार हो गए।

हुसैन ने आगे लिखा, “वो इस मैच में अपने कप्तान बेन स्टोक्स का उदाहरण ले सकते हैं। बेन स्टोक्स ने 2019 में शानदार प्रदर्शन करने के बाद अपनी तकनीक में बदलाव किए हैं। उन्होंने अपने स्टांस को खोला है और वह अब ऑफ साइड में अच्छी तरह से मूव कर रहे हैं। मुझे नहीं पता कि उन्होंने ऐसा क्यों किया।”