दोहा वर्ल्ड चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में जगह बनाने में असफल रहीं भारतीय महिला स्प्रिंटर दुती चंद ने 59वीं राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में अपना नेशनल रिकॉर्ड ध्वस्त करते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया. Also Read - आखिर क्यों ये स्टार फर्राटा धाविका LOCKDOWN में अपनी BMW कार बेचने को हुई मजबूर, जानिए वजह

Also Read - दुती चंद ने 200 मीटर फर्राटा दौड़ में गोल्ड के साथ किया सीजन का अंत

फाइनल का टिकट कटाने रिंग में उतरेंगी भारत की 4 महिला बॉक्सर Also Read - नीरज चोपड़ा, हिमा दास और दुती चंद टोक्यो ओलंपिक 2020 तक नेशनल कैंप का होंगे हिस्सा

दुती ने स्पर्धा के सेमीफाइनल में 11.22 सेकेंड के समय से इस साल अप्रैल में एशियाई चैम्पियनशिप में 11.26 सेकेंड के रिकॉर्ड को तोड़ दिया. वह पिछले रिकॉर्ड में रचिता मिस्त्री के बराबर थीं.

दुती दो सप्ताह पहले दोहा में आयोजित वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपनी हीट में 11.48 सेकेंड के निराशाजनक समय से सातवें स्थान पर रही थीं.

मिताली, पूनम राउत के अर्धशतकों से जीता भारत, 2-0 से नाम की वनडे सीरीज

उन्होंने शुक्रवार को फाइनल में 11.25 सेकेंड के समय से स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाला और अर्चना सुसिंद्रन और हिमाश्री राय को पीछे छोड़ा.

पुरुषों की 100 मीटर स्पर्धा में अमिया मलिक ने मारी बाजी

ओडिशा के ही अमिया कुमार मलिक ने पुरूषों की 100 मीटर स्पर्धा में 10.46 सेकेंड के समय से पहले स्थान पर रहे. मलेशिया के जोनाथन अनाकनेयपा ने रजत और पंजाब के गुरिंदरवीर सिंह ने कांस्य पदक जीता.

400 मीटर बाधा दौड़ में जबीर मीट रिकॉर्ड के साथ बने चैंपियन

एमपी जबीर ने पुरूषों की 400 मीटर बाधा दौड़ में मीट रिकार्ड बनाकर स्वर्ण पदक जीता, उन्होंने 49.41 सेकेंड का समय निकाला. उन्होंने तमिलनाडु के अयासैमी धारून के पिछले साल के 49.67 सेकेंड के समय में सुधार किया.

राहुल रोहिला ने पुरुषों की 20 मीटर पैदल चाल स्पर्धा में जीता गोल्ड

इससे पहले हरियाणा के राहुल रोहिला ने पुरूषों की 20 मीटर पैदल चाल स्पर्धा में के गणपति और संदीप कुमार को पीछे छोड़ते हुए पहला स्थान हासिल किया.