दुबई. नेपाल क्रिकेट में सोमवार का दिन इस देश के क्रिकेट इतिहास में सुनहरे अक्षरों में दर्ज हो गया. सोमवार को नेपाल ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की टीम के साथ खेली जा रही वनडे श्रृंखला में कई रिकॉर्ड बनाए. पहले तो नेपाल टीम के कप्तान ने अपने देश की तरफ पहला शतक जड़ डाला. इसके बाद नेपाल ने UAE को इस मैच में शिकस्त देते हुए इस श्रृंखला को अपने नाम कर पहली अंतरराष्ट्रीय सीरीज जीतने का भी रिकॉर्ड बनाया. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नेपाल की उपलब्धि पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने जहां इस क्रिकेट के इस नवोदित देश को बधाई दी, वहीं सोशल मीडिया पर भी नेपाल की जीत की खुशियां मनाई गईं.

नेपाल की टीम की ओर से कप्तान पारस खड़का ने बेहतरीन पारी का प्रदर्शन किया. खड़का की 115 रन की लाजवाब पारी की मदद से नेपाल ने UAE को तीसरे और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में चार विकेट से हरा दिया. नेपाल के सामने UAE ने 255 रनों का लक्ष्य खड़ा किया था, लेकिन खड़का की ऐतिहासिक पारी की बदौलत नेपाल ने 5 ओवर से ज्यादा गेंदे शेष रहते हुए ही मैच को परिणाम तक पहुंचा दिया. खड़का ने टीम की तरफ से खेलते हुए पांचवें ओवर में क्रीज पर कदम रखा. UAE के खिलाफ तीन मैचों की इस सीरीज में खड़का अपने देश की तरफ से वनडे में शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बने. उन्होंने अपनी पारी में 109 गेंदें खेली तथा 15 चौके और एक छक्का लगाया. नेपाल ने 44.4 ओवर में छह विकेट खोकर लक्ष्य हासिल करके तीन मैचों की श्रृंखला 2-1 से अपने नाम की.

इससे पहले यूएई ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर छह विकेट पर 254 रन बनाए थे. उसकी तरफ से शैमन अनवर (87) और मोहम्मद बूटा (59) ने अर्धशतक जमाए. नेपाल के लिए केसी करण और खड़का ने दो-दो विकेट लिए. आपको बता दें कि आईसीसी ने नेपाल को पिछले साल ही एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय का दर्जा प्रदान किया था. पिछले साल 15 मार्च को नेपाल की क्रिकेट टीम को यह दर्जा दिया गया था. इसके बाद से ही इस टीम के खिलाड़ी लगातार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट खेलने वाले अन्य देशों का ध्यान खींच रहे हैं. खासकर भारतीय उपमहाद्वीप में, जहां पहले से ही भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका जैसी टीमों का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बोलबाला है, नेपाल ने अपने क्रिकेट कौशल का बेहतरीन मुजाहिरा किया है.

(इनपुट – एजेंसी)