Also Read - On This Day in 2018: ये हैं CSK की ऐतिहासिक जीत के 12 नायक

नई दिल्ली। माइकल क्लार्क भले ही दावा करते हैं कि जब भी वह संदीप लैमिचाने को देखते हैं तब उन्होंने ‘मुस्कराने’ के अलावा कुछ खास नहीं किया लेकिन आईपीएल का अनुबंध हासिल करने वाले पहले नेपाली क्रिकेटर एक खिलाड़ी के रूप में अपने विकास का श्रेय ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान को देते हैं। क्लार्क 17 वर्षीय नेपाली लेग स्पिनर के लिये मेंटर जैसे हैं जिन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने आईपीएल नीलामी में 20 लाख रुपये में खरीदा। Also Read - चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी ने की शादी, सोशल मीडिया के जरिए दी खुशखबरी

Also Read - धोनी ने श्रेयस अय्यर के टीम इंडिया में एंट्री के बाद अखबार पढ़ने पर लगाया बैन!

लैमिचाने ने दुबई से पीटीआई से खास बातचीत में कहा कि माइकल क्लार्क का मुझ पर एक क्रिकेटर के तौर पर बहुत प्रभाव रहा है। जब से उन्होंने मुझे हांगकांग सिक्सेस में गेंदबाजी करते हुए देखा तब से उन्होंने हमेशा मुझ पर निगाह रखी। वह बेहद विनम्र स्वभाव के व्यक्ति हैं जिन्होंने एक क्रिकेटर और व्यक्ति के रूप में मेरे विकास में मदद की।  

संदीप लैमिचाने बने IPL में एंट्री करने वाले पहले नेपाली क्रिकेटर, दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा

संदीप लैमिचाने बने IPL में एंट्री करने वाले पहले नेपाली क्रिकेटर, दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा

दूसरी तरफ लैमिचाने जिस प्रभाव की बात करते हैं उस पर क्लार्क का रवैया बेहद विनम्र रहा। क्लार्क से जब लैमिचाने को आगे बढ़ाने में भूमिका के बारे में पूछा गया तो उन्होंने ट्विटर पर जवाब दिया कि मैंने कुछ नहीं किया दोस्त सिवाय उसकी गेंदबाजी को देखकर मुस्कराने के। यहां तक कि आईपीएल नीलामी से भी पहले लैमिचाने क्लार्क के संपर्क में थे।

लैमिचाने ने कहा कि उनसे बात करके मुझे सहज रहने में मदद मिलती है। उनकी कप्तानी में सिडनी ग्रेड लीग में वेस्टर्न सबर्ब्स क्रिकेट क्लब की तरफ से खेलने का अनुभव मैं कभी नहीं भूल सकता। मेरे जैसे युवा के लिये यह बड़ी उपलब्धि थी।  लेग ब्रेक लैमिचाने की स्टॉक गेंद है लेकिन वह गुगली पर भी काम रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरी लेग ब्रेक अच्छी है लेकिन नेपाल राष्ट्रीय टीम के कोच राजू खड़का के साथ काम करके मैंने गुगली पर भी पकड़ बना ली है।

लैमिचाने के बचपन के आदर्श खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और शेन वार्न हैं। आईपीएल नीलामी में चुने जाने के बाद उनके पास लगातार बधाई संदेश आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पास नेपाल के मंत्री और आम लोगों से बधाई संदेश आये। मेरे पिताजी ने कहा कि आईपीएल के रूप में मुझे अपने देश का गौरव बढ़ाने का मौका मिला है। मैं इसका पूरा फायदा उठाना चाहूंगा।