बर्मिघम: कप्तान केन विलियम्सन (नाबाद 103) और हरफनमौला खिलाड़ी कोलिन डी ग्रांडहोम (60) के बीच हुई साझेदारी के दम पर बुधवार को एजबेस्टन मैदान पर खेले गए आईसीसी विश्व कप-2019 के मैच में न्यूजीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को चार विकेट से हरा अपना विजयी क्रम जारी रखा है. बारिश के कारण मैच देरी से शुरू हुआ और इसी कारण प्रति पारी 49 ओवरों का मैच कर दिया गया. दक्षिण अफ्रीका ने रासी डैर डुसेन और हाशिम अमला की संघर्षपूर्ण अर्धशतकीय पारियों के दम पर 49 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए.

 

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने हालांकि कीवी टीम के लिए मुसीबतें पैदा कीं लेकिन खराब फील्डिंग और विलियम्सन-कोलिन की जोड़ी ने न्यूजीलैंड को 48.3 ओवरों में छह विकेट खोकर लक्ष्य तक पहुंचा दिया. लुंगी नगिदी ने 48वें ओवर में डी ग्रांडहोम को आउट कर मैच में रोमांच लाया लेकिन आखिरी ओवर में विलियम्सन ने छक्के के साथ अपना शतक पूरा किया और फिर एक रन लेकर टीम को जीत दिलाई. यह न्यूजीलैंड की पांच मैचों में चौथी जीत है जबकि उसका एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था. इस जीत से मिले दो अंकों की बदौलत न्यूजीलैंड के नौ अंक हो गए हैं. वह एक बार फिर 10 टीमों की अंकतालिका में पहले स्थान पर काबिज हो गई है. दक्षिण अफ्रीका की यह छह मैचों में चौथी हार है. उसके हिस्से एक जीत आई है जबकि उसका भी एक मैच बारिश के कारण रद्द कर दिया गया था. दक्षिण अफ्रीका आठवें नंबर पर कायम है.

 

रासी वैन डर डुसेन ने अपनी टीम के लिए नाबाद 67 और हाशिम अमला ने 55 रन बनाए. इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने अंत में खराब फील्डिंग के कारण भी कुछ मौके गंवाए और इसी वजह से डुसेन, अमला की मेहनत पर पानी फिर गया. 41वें ओवर की पहली गेंद पर कागिसो रबादा के पास रन आउट का मौका था जिससे विलियम्सन पवेलियन लौट सकते थे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. इमरान ताहिर द्वारा फेंके गए 38वें ओवर में दक्षिण अफ्रीका ने तीन मौके गंवाए. इनके अलावा भी कई मौके ऐसे थे जहां कैच मुश्किल था लेकिन लिया जा सकता था और रन आउट भी किया जा सकता था, लेकिन दक्षिण अफ्रीका इन छोट-छोटे मौकों को भुना नहीं पाई. दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने टीम को शुरुआत तो अच्छी दिलाई थी. तीसरे ओवर की पहली गेंद पर 12 के कुल स्कोर पर कागिसो रबादा ने कोलिन मुनरो (9) को आउट कर कीवी टीम का बड़ा विकेट गिरा दिया.

यहां कप्तान विलियम्सन ने कदम रखा और दूसरे सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल (35) के साथ मिलकर टीम का स्कोर 72 तक पहुंचा दिया. यहां गुप्टिल आंदिले फेहुलक्वायो की गेंद पर हिट विकेट हो गए. क्रिस मौरिस ने फिर दक्षिण अफ्रीका को दो बड़ झटके दे उसे दवाब में ला दिया. मौरिस ने पहले रॉस टेलर को एक और फिर टॉम लाथम को भी एक के निजी स्कोर पर अपना शिकार बनाया. 80 रनों पर चार विकेट खोने वाली कीवी टीम के लिए कप्तान के साथ जिम्मी नीशाम ने जीत की राह पर वापस की कोशिश शुरू की. दोनों पांचवें विकेट के लिए 57 रन जोड़े. मौरिस एक बार फिर कीवी टीम के लिए मुसीबत बनकर आए और नीशम को 23 के निजी स्कोर पर बाहर भेज गए.

यहां से कप्तान और डी ग्रांडहोम ने बिना किसी जोखिम के रन बनाए और इसमें दक्षिण अफ्रीका के फील्डरों ने भी उनका साथ दिया. दोनों ने छठे विकेट के लिए 91 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया जिसे विलियम्सन ने अंजाम दिया. डी ग्रांडहोम ने 47 गेंदों का सामना किया और पांच चौकों के अलावा दो छक्के लगाए. विलियम्सन ने 138 गेंदें खेलीं जिनपर नौ पर चौके और एक पर छक्का मारा. इससे पहले, डुसेन और अमला के अलावा उनकी टीम के बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सके.ट्रेंट बोल्ट ने दक्षिण अफ्रीका के इनफॉर्म बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक (5) को दूसरे ओवर की पांचवींे गेंद पर पांच के कुल स्कोर पर बोल्ड कर उसे बड़ा झटका दिया. दक्षिण अफ्रीका के लिए अच्छी बात यह रही कि इस मैच में अमला ने फॉर्म में वापसी की और अर्धशतक जमाया. उन्होंने हालांकि धीमी बल्लेबाजी की लेकिन विकेट पर खड़े रहे. कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 23 रन बनाकर उनका साथ देने की कोशिश की लेकिन लॉकी फग्र्यूसन ने कप्तान को बोल्ड कर अमला को अकेला कर दिया.

टीम का स्कोर जब 111 था तभी बाएं हाथ के स्पिनर मिशेल सैंटनर ने अर्धशतक पूरा कर चुके अमला को पवेलियन भेज दिया. अमला ने 83 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 55 रन बनाए. इस मैच में अमला वनडे में सबसे तेजी से आठ हजार रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं. उन्होंने 176 पारियों में यह मुकाम हासिल किया जबकि भारतीय कप्तान विराट कोहली 175 पारियों में इतने रन बना चुके थे. अमला साथ ही अपने देश के लिए आठ हजार रन बनाने वाले चौथे बल्लेबाज हैं. उनसे पहले जैक्स कैलिस, अब्राहम डिविलियर्स और हर्षल गिब्स भी दक्षिण अफ्रीके लिए यह आंकड़ा छू चुके हैं. अमला के बाद एडिन मार्कराम 38 के निजी स्कोर पर कोलिन डी ग्रांडहोम का शिकार हो गए. यहां से डेविड मिलर (36) और डुसेन ने तेजी से रन बनाने की कोशिश की. दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी की.

मिलर 208 के कुल स्कोर पर फग्र्यूसन का शिकार हुए. फग्र्यूसन ने आंदिले फेहुलक्वायो को खाता नहीं खोलने दिया. डुसेन ने यहां से आक्रामक रुख अख्तियार किया. आखिरी के पांच ओवरों में दक्षिण अफ्रीका डुसेन के दम पर 42 रन जोड़ने में सफल रही. उन्होंने अपनी नाबाद 67 रनों की पारी में 64 गेंदों का सामना किया और दो चौकों के अलावा तीन छक्के मारे. क्रिस मौरिस छह रन बनाकर उनके साथ नाबाद लौटे. कीवी टीम के लिए फग्र्यूसन ने तीन विकेट लिए. बोल्ट, डी ग्रांडहोम, सैंटनर ने एक-एक विकेट लिया.