नई दिल्ली. टेस्ट सीरीज में श्रीलंका का सूपड़ा साफ करने के बाद न्यूजीलैंड की टीम का इरादा अब वनडे सीरीज पर कब्जा जमाने का है. इसके साथ उसकी कोशिश वर्ल्ड कप के लिए अपनी टीम तैयार करने पर भी होगी. श्रीलंका को टेस्ट सीरीज में 1-0 से हराकर न्यूजीलैंड टेस्ट रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है और अब सिर्फ भारत और साउथ अफ्रीका ही उससे आगे हैं.

वर्ल्ड कप पर कीवी टीम का फोकस 

कीवी टीम के कोच गैरी स्टीड ने कहा, ‘‘हमारा सारा ध्यान अब इस साल होने वाले वर्ल्ड कप पर है. इस वनडे सीरीज के जरिए वर्ल्ड कप को लेकर हम अपना स्पष्ट रूख अख्तियार करना चाहेंगे.” ICC वनडे रैकिंग में भी तीसरे स्थान पर मौजूद न्यूजीलैंड जून में वर्ल्ड कप के अपने पहले मैच में आठवें नंबर की टीम श्रीलंका से भिड़ेगा. ये मुकाबला कार्डिफ में खेला जाएगा.

वर्ल्ड कप ओपनर में श्रीलंका से मुकाबला

मतलब ये कि न्यूजीलैंड अगर श्रीलंका को अपने घर में खेली जा रही वनडे सीरीज में रौंदता है तो इसका मनोवैज्ञानिक दबाव वर्ल्ड कप के ओपनिंग मैच में भी श्रीलंका पर रहेगा, जो कीवी टीम के वर्ल्ड कप अभियान को नई उड़ान दे सकता है. कीवी कोच स्टीड ने श्रीलंका के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज को बदलाव करने, खेल की शैली पर प्रयोग करने और अलग-अलग विकल्पों पर गौर करने के लिहाज से महत्वपूर्ण करार दिया.

मलिंगा कप्तान, क्या दिखेगी शान?

श्रीलंका की वनडे टीम में टेस्ट टीम की तुलना में छह नए खिलाड़ी होंगे जिसमें अनुभवी लसिथ मलिंगा भी शामिल हैं. न्यूजीलैंड की टीम में मार्टिन गुप्टिल को जगह मिली है जबकि रेग्यूलर सदस्यों में टाम लैथम और कोलिन डि ग्रैंडहोम को आराम दिया गया है.