माउंट माउंगानुइ. पहले तीनों मैचों में हार से श्रृंखला गंवाने वाले न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ बाकी बचे दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए तैयारी की शुरुआत कर दी है. न्यूजीलैंड ने अगले दो मैचों के लिए ऑलराउंडर जिम्मी नीशाम (jimmi neesham) और लेग स्पिनर टॉड एस्टल (todd astle) को अपनी टीम में शामिल किया है. नीशाम टीम में डग ब्रेसवेल की जगह लेंगे जबकि एस्टल को लेग स्पिनर ईश सोढ़ी की जगह लिया गया है. न्यूजीलैंड क्रिकेट के बयान के अनुसार एस्टल घुटने की चोट से उबर गए हैं जिसके कारण वह नवंबर में पाकिस्तान के खिलाफ श्रृंखला में नहीं खेल पाए थे. नीशाम उस टीम का हिस्सा थे जिसने हाल में श्रीलंका का सामना किया था लेकिन इसके बाद मांसपेशियों में खिंचाव के कारण वह बाहर हो गए थे. गौरतलब है कि भारत ने सोमवार को यहां न्यूजीलैंड को तीसरे वनडे में सात विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 3-0 से अजेय बढ़त बना ली है. Also Read - पूल में रोमांस कर रहे थे विराट और अनुष्का, एबी डिविलियर्स ने क्लिक की ये शानदार तस्वीर

Also Read - IPL 2020: राजस्थान के खिलाफ मैच में ई-सिगरेट पीते नजर आए एरॉन फिंच, लोगों ने कोहली से मांगा जवाब

Also Read - New Zealand General Election: न्यूजीलैंड के आम चुनाव में प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न की शानदार जीत, दूसरी बार संभालेंगी कार्यभार

न्यूजीलैंड में सीरीज सील करने के बाद आराम पर चले विराट कोहली, बोले- दिल तो हैप्पी है जी

न्यूजीलैंड में सीरीज सील करने के बाद आराम पर चले विराट कोहली, बोले- दिल तो हैप्पी है जी

आपको बता दें कि न्यूजीलैंड के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों ने अब तक अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है. हालांकि टीम प्रबंधन ने सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और कोलिन मुनरो को टीम में बनाए रखने का फैसला किया है. एक तरफ जहां टीम इंडिया की सलामी बल्लेबाजों की जोड़ी न्यूजीलैंड में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रही है, वहीं मेजबान टीम का शीर्ष क्रम उलझा हुआ है. भारत के खिलाफ खेले गए तीसरे मैच में भी मेजबान टीम के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज नहीं चल पाए थे. मार्टिन गुप्टिल जहां सिर्फ 13 रन बनाकर आउट हुए, वहीं कॉलिन मुनरो को शमी ने महज 7 रन पर ही पवेलियन भेज दिया. इस मैच में न्यूजीलैंड की तरफ से सिर्फ रॉस टेलर ही सबसे सफल बल्लेबाज रहे, जिन्होंने 106 गेंदों पर 9 चौकों की मदद से 93 रन बनाए. टेलर का साथ सिर्फ टॉम लाथम ने दिया, जिन्होंने अपनी टीम के लिए 51 रन जोड़े. इन दोनों बल्लेबाजों के अलावा न्यूजीलैंड का कोई भी खिलाड़ी भारतीय बॉलिंग आक्रमण के सामने नहीं टिक सका.

बहरहाल, शुरुआती मैचों की हार से उबरकर अब न्यूजीलैंड इस वनडे सीरीज के बाकी बचे दो मैचों में अपना दमखम दिखाने उतरेगा. न्यूजीलैंड की टीम चाहेगी कि किसी भी तरह ये दोनों मैच जीतकर वह देश में अपनी प्रतिष्ठा बचाए रख सके और मेहमान टीम को हार का स्वाद चखा सके. क्योंकि अगर इस सीरीज के बाकी बचे मैच जीतती है, तो इसके बाद होने वाले टी-20 सीरीज में इसका मनोवैज्ञानिक असर टीम के खिलाड़ियों पर पड़ेगा.

NZvsIND, 3rd ODI: भारत ने न्यूजीलैंड से जीता तीसरा वनडे, सीरीज पर जमाया कब्जा

न्यूजीलैंड की टीम इस प्रकार है : केन विलियमसन (कप्तान), टॉड एस्टल, ट्रेंट बोल्ट, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, लॉकी फर्ग्यूसन, मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, कॉलिन मुनरो, जिमी नीशाम, हेनरी निकोल्स, मिशेल सेंटनर, टिम साउथी, रॉस टेलर.

(इनपुट – एजेंसी)