न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड (Blackcaps) ने मंगलवार को भारत के खिलाफ 18 जून से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) मैच के लिए टीम का ऐलान किया। इस 15 सदस्यीय स्क्वाड में एजाज पटेल (Ajaz Patel) को जगह मिली है, वहीं मिशेल सैंटनर (Mitchell Santner) को बाहर बैठना पड़ा है।Also Read - ICC WTC 2021-23: पाकिस्तान से नहीं होगी भारत की भिड़ंत, इन 3 देशों की करेगा मेजबानी

स्पिन गेंदबाज एजाज पटेल के बारे में कोच ने कहा, “एजाज ने खूबसूरती से गेंदबाजी की। दोनों ही पारियों में उसने वो भूमिक अदा की जो हम चाहते थे और कुछ विरकेट लिए। ये बात ध्यान देने वाली है कि इंग्लैंड में हम जिस तरह के हालातों का सामना कर रहे हैं वो स्पिन के दृष्टिकोण से न्यूजीलैंड के मुकाबले अलग हैं और मुझे लगता है कि यहां विकेट जल्दी खराब होता है।” Also Read - न्यूजीलैंड के इस YouTuber को भारत सरकार ने देश में घुसने से रोका, हरियाणा में मौजूद पत्नी पहुंची हाईकोर्ट

कोच ने आगे कहा, “स्पिनर की भूमिका यहां न्यूजीलैंड के मुकाबले थोड़ी ज्यादा आक्रामक होगी। हमें लगा कि हमें ऐसे स्पिनर की जरूरत है जो विकेट लेने के मामले में हमारा सर्वश्रेष्ठ हैं और इसी वजह से एजाज को मौका मिला।” Also Read - WTC खिताब के एक महीने बाद जश्न मनाएगा New Zealand, देश भर में गदा लेकर घूमेगी कीवी टीम

इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच का हिस्सा रहे डेरिल मिशेल के अलावा डग ब्रेसवेल, जैकब डफी और रचिन रवींद्र को भी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के स्क्वाड में मौका नहीं मिल पाया है।

टीम के चयन पर कोच गैरी स्टीड ने कहा, “ये काफी मुश्किल था। जब आप सभी अलग-अलग स्लॉट्स को देख रहे होते हैं तो बात हरसंभव स्थिति के लिए विकल्प रखने की होती है। आप डेरिल मिशेल जैसे किसी को ले सकते हैं जिसने मिले मौका पर बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है या फिर मिशेल सेंटनर जो टीम के लंबे समय से टीम की सेवा कर रहे हैं। ये दो उन कुछ खिलाड़ियों में से हैं जिन्हें बाहर रखने का फैसला मुश्किल था।”

कप्तान केन विलियमसन की अगुवाई वाली इस टीम में युवा तेज गेंदबाज काइल जेमीसन को मौका दिया गया है जो प्लेइंग इलेवन में ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैंडहोम की जगह ले सकते हैं। यानि कि जेमीसन पर पेस अटैक के साथ साथ निचले क्रम में बल्लेबाजी करने का जिम्मा भी होगा।

इस पर कोच ने कहा, “मुझे काइल पर भरोसा है। उसने अभी तक ऐसा (निचले क्रम में बल्लेबाजी) किया नहीं है लेकिन उसका खेल विकसित हो रहा है। समय के साथ, ये ऐसी भूमिका है जिसमें हम काइल को देखना चाहते हैं, उसे यहां पहुंचने के लिए निश्चित तौर पर अपनी सीमाओं को बढ़ाना होगा क्योंकि इससे हमें भी टीम को एक अलग नजरिए से देखने का मौका मिलेगा।”

उन्होंने कहा, “ये हमेशा एक पहेली होती है कि क्या आप ज्यादा गेंदबाजों या ज्यादा बल्लेबाजों के साथ उतरें। टीम में ऑलराउंडर होने का फायदा यही है कि आपको संतुलन मिलता है और हम टीम का चयन करते समय इसी बात को ध्यान में रखते हैं।”

न्यूजीलैंड डब्ल्यूटीसी फाइनल टीम: टॉम लैथम, डेवोन कॉनवे, केन विलियमसन, रॉस टेलर, हेनरी निकोल्स, विल यंग, बीजे वाटलिंग, टॉम ब्लंडेल, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, काइल जैमीसन, टिम साउदी, नील वैगनर, एजाज पटेल, ट्रेंट बोल्ट, मैट हेनरी।