विकेटकीपर बल्लेबाज बीजे वॉटलिंग (BJ Watling) की 119 रनों की शानदार पारी की मदद से न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के तीसरे दिन जबरदस्त वापसी की है। मैच के दूसरे दिन 127 रन के स्कोर पर कप्तान केन विलियमसन (Kane Willamson), रॉस टेलर (Ross Taylor) समेत चार शीर्ष क्रम बल्लेबाजों के विकेट खोने के बाद मुश्किल में आई कीवी टीम को वॉटलिंग ने संभाला। उनके शतक की मदद से मेजबान टीम ने दिन खत्म होने तक 6 विकेट खोकर 394 रन बना लिए और 41 रन की बढ़त हासिल की।Also Read - PAK vs NZ: Rameez Raja का बयान, पाकिस्तान क्रिकेट हमेशा ही कठिनाइयों का सामाना करने के बाद आगे बढ़ा है

Also Read - एशेज के लिए ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए तैयार हैं स्टुअर्ट ब्रॉड लेकिन....

स्टंप्स तक वॉटलिंग ने 298 गेंदो पर 15 चौकों की मदद से 119 रन बना लिए थे। वहीं मिशेल सेंटनर 103 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 31 रन बनाकर नाबाद रहे। दोनों बल्लेबाजों के बीच अब तक सातवें विकेट के लिए 78 रनों की साझेदारी हो चुकी है। Also Read - न्यूजीलैंड के पाक दौरा रद्द करने के बाद रमीज रजा ने खिलाड़ियों से कहा- अपने गुस्से का इस्तेमाल विश्वस्तरीय खिलाड़ी बनने के लिए करिए

मेजबान टीम ने अपने कल के स्कोर चार विकेट पर 144 रनों से आगे खेलना शुरू किया। हैनरी निकोल्स ने 26 और वॉटलिंग ने अपनी पारी को छह रनों से आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों के बीच 70 रनों की साझेदारी हुई ही थी कि निकोलस आउट हो गए। उन्होंने 125 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 41 रन बनाए।

तीन साल से 16 साल के ही हैं पाकिस्तानी तेज गेंदबाज नसीम शाह

टीम के 197 के स्कोर पर पांचवें बल्लेबाज के रूप में निकोलस के आउट होने के बाद वॉटलिंग ने कोलिन डी ग्रैंडहोम (65) के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 119 रनों की साझेदारी कर कीवी टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। ग्रैंडहोम ने 108 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाया।

ग्रैंडहोम के आउट होने के बाद वॉटलिंग ने सेंटनर के साथ मिलकर न्यूजीलैंड को और कोई झटका नहीं लगने दिया और सुरक्षित रूप से दिन का खेल निकाल दिया। इंग्लैंड की ओर से सैम कर्रन और बेन स्टोक्स ने दो-दो जबकि जैक लीच और कप्तान जो रूट को एक-एक विकेट मिला है।