पिच पर असमान उछाल की वजह से न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) के आउट होने और हेनरी निकोल्स (Henry Nicholls) के सिर पर चोट लगने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट का मेजबान माउंट मोनगानुइ विवाद के घेरे में आ गया है जबकि मैच में तीन दिन का खेल बाकी है। मैच के दो दिन के अंदर ही बे ओवल स्टेडियम की पिच अप्रत्याशित हो गई है।

मैच के दूसरे दिन न्यूजीलैंड ने 106 रन पर  तीन विकेट गंवा दिए थे। जिसके बाद विलियमसन ने कप्तानी पारी खेलते हुए अर्धशतक जड़ा। 85 गेंदो पर 51 रन बना चुके विलियमसन सैम कर्रन (Sam Curran) की उछाल भली गेंद पर बेन स्टोक्स के हाथों कैच आउट हुए। विलियमसन गेंद पर शॉट लगाने की कोशिश भी नहीं कर रहे थे, बल्कि वो डिफेंस करना चाह रहे थे लेकिन उछाल की वजह से गेंद उनके बल्ले से लगकर स्लिप की तरफ चली गई। गेंदबाज भी इस विकेट से हैरान थे।

असमान उछाल ने बल्लेबाजों को परेशान करना यहीं पर खत्म नहीं किया। कीवी बल्लेबाज निकोल्स भी उछाल के शिकार हुए जब जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) की बाउंसर उनके सिर पर लगी। हालांकि उन्हें कोई गंभीर चोट नहीं आई लेकिन वो तीसरे दिन का खेल शुरू होने से पहले जरूरी जांच कराएंगे।

IND vs BAN, 1st Day-Night Test: बांग्लादेश ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी

पारी की शुरुआत में न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज टॉम लेथम (Tom Latham) आठ रन बनाकर कर्रन के खिलाफ एलबीडब्ल्यू आउट हो गए थे। उन्होंने रिव्यू भी नहीं लिया जबकि रीप्ले में वो दिखा कि गेंद बल्ले से लगकर गई थी।

इससे पहले इंग्लैंड के जॉस बटलर 43 के स्कोर पर अजीबोगरीब तरीके से आउट हुए। नील वेगनेर की गेंद पर मिशेल सेंटनेर ने उनका कैच लपका जो उस समय फील्ड से बाहर थे। सेंटनेर दर्शकों को आटोग्राफ दे रहे थे लेकिन विज्ञापन होर्डिंग लांघकर मैदान पर पहुंचे और कैच लपका। जो कि खिलाड़ी की मूवमेंट और फील्ड प्लेसमेंट जानकारी के बल्लेबाज के अधिकार संबंधी क्रिकेट के नियमों के खिलाफ था। लेकिन बटलर चुपचाप मैदान छोड़कर चले गए।

दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड ने 4 विकेट खोकर 144 रन बना लिए थे। दिन का खेल खत्म होने तक हेनरी निकोल्स 26 और बीजे वाटलिंग छह रन बनाकर खेल रहे थे। इससे पहले इंग्लैंड टीम 353 रन पर ऑलआउट हुए और पूरे दिन में कुल दस विकेट गिरे।