नई दिल्ली: इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने रविवार को खेले गए टी-20 त्रिकोणीय सीरीज मैच में न्यूजीलैंड को केवल दो रनों से हरा दिया. हालांकि, इस हार के बावजूद अपने बेहतर नेट रन रेट के दम पर न्यूजीलैंड ने इस सीरीज के फाइनल में प्रवेश कर लिया है, जहां उसका सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा। ऑस्ट्रेलिया अपने सभी चार मैच जीतकर फाइनल में पहुंच चुका है.

सेडोन पार्क में खेले गए मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड ने सात विकेट खोकर 194 रन बनाए. न्यूजीलैंड इस स्कोर को हासिल करने में दो रनों से चूक गया और चार विकेट खोकर 192 रन ही बना पाया. इंग्लैंड के लिए पारी की शुरुआत अच्छी नहीं रही. 24 के स्कोर पर उसने जेसन रॉय (21) और एडम हेल्स (1) के रूप में अपने दो बल्लेबाज गंवा दिए.

LIVE INDvSA: टीम इंडिया की निगाहें टी-20 सीरीज पर, रैना की वापसी लगभग तय

इसके बाद, इयोन मोर्गन (नाबाद 80) और डेविड मलान (53) ने 93 रनों की मजबूत साझेदारी कर टीम को 100 के पार पहुंचाया. कोलिन डी ग्रैंडहोम ने मलान को मार्क चैपमैन के हाथों कैच आउट करवा इस साझेदारी को तोड़ दिया. एक छोर पर टीम की पारी संभाले खड़े मोर्गन को बाकी खिलाड़ियों को साथ नहीं मिला और टीम 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 194 रन बना पाई. मोर्गन के अलावा, क्रिस जोर्डन (6) नाबाद रहे.

इस मैच में ट्रैंट बोल्ट ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए, वहीं टिम साउथी को दो सफलाएं मिली. ग्रैंडहोम और ईश सोढी को एक-एक सफलता मिली.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड ने पारी की अच्छी शुरुआत की. मार्टिन गुप्टिल (62) और कोलिन मुनरो (57) ने 78 का स्कोर बनाया, लेकिन इसी स्कोर पर मुनरो को आदिल राशिद ने डेविड विले के हाथों कैच आउट करवा कर टीम का पहला विकेट गिराया.

अफगानिस्तान के इस 16 साल के खिलाड़ी ने तोड़ा वकार यूनुस का रिकॉर्ड

इसके बाद, कप्तान केन विलियमसन (8) भी ज्यादा देर तक मैदान पर टिक नहीं पाए और डॉसन के हाथों लपके गए. चैपमैन (37) ने गुप्टिल के साथ 64 रनों की साझेदारी कर टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन 164 के कुल स्कोर पर गुप्टिल का विकेट गिरने के साथ ही टीम बिखर गई.

गुप्टिल के आउट होने के बाद टीम किसी तरह टीम ने लक्ष्य तक पहुंचने की कोशिश की. उसे अंमित गेंद पर चार रन बनाने थे, लेकिन ग्रैंडहोम केवल दो रन बनाए पाए और न्यूजीलैंड की टीम दो रनों से हार गई.

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड ने कुल चार-चार मैचों में से एक-एक मैच जीते हैं और तीन मैच हारे हैं. ऐसे में न्यूजीलैंड ने इस मैच में हार के बावजूद इंग्लैंड की तुलना में अच्छे रन रेट के दम पर फाइनल में स्थान हासिल किया है. न्यूजीलैंड का सामना फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से 21 फरवरी को ऑकलैंड में होगा.