सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल की अर्धशतकीय पारी की मदद से टीम इंडिया ने वेलिंगटन टेस्ट के तीसरे दिन चार विकेट के नुकसान पर 144 रन बनाए। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड 39 रन से आगे थी। स्टंप तक अजिंक्य रहाणे (25) और हनुमा विहारी (15) क्रीज पर टिके हुए थे। Also Read - लॉकडाउन से मिले ब्रेक का इस्तेमाल ऑस्ट्रेलिया दौरे की तैयारी के लिए कर रहे हैं हनुमा विहारी

तीसरे दिन के खेल की शुरुआत कीवी टीम की पारी के साथ हुई। काइन जेमीसन और निचले क्रम के बाकी बल्लेबाजों की अहम पारियों की मदद से कीवी टीम ने 348 रन बनाकर 183 रन की बढ़त हासिल की। Also Read - कोरोनावायरस पीड़ितों की मदद को आगे आए अजिंक्य रहाणे, 10 लाख रुपये की मदद का किया ऐलान

दूसरी पारी में भारतीय टीम की सलामी जोड़ी एक बार फिर फ्लॉप रही। पृथ्वी शॉ मात्र 14 रन बनाकर आठवें ओवर ट्रेंट बोल्ट के शिकार बनें। शॉ को आउट करने के बाद बोल्ट रुके नहीं। 32वें ओवर में चेतेश्वर पुजारा को इनस्विंगर पर बोल्ड पर उन्होंने भारत को बड़ा झटका दिया। Also Read - विदेशों में जीत की आदत डालने के लिए करनी होगी काफी मेहनत: सुनील गावस्‍कर

जसप्रीत बुमराह के समर्थन में उतरे इशांत शर्मा, बोले- पिछले 2 वर्षों में हमने हमेशा 20 विकेट चटकाए हैं

टी से ठीक पहले पुजारा के आउट होने के बाद तीसरे सेशन में मयंक का साथ देने के लिए कप्तान विराट कोहली मैदान पर उतरे। हालांकि उनकी खराब फॉर्म आज भी बरकरार रही और कोहली मात्र 19 रन के स्कोर पर बोल्ट की गेंद पर विकेटकीपर बीजे वॉटलिंग के हाथों कैच आउट हुए।

144 रन पर चार विकेट खोने के बाद उप कप्तान रहाणे ने स्टंप तक ऑलराउंडर विहारी के साथ मिलकर पांचवें विकेट के लिए 118 गेंदो पर 31 रन की साझेदारी बना ली है।