तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट के शानदार प्रदर्शन और भारतीय बल्लेबाज मयंक अग्रवाल की संघर्षपूर्ण बल्लेबाजी के बीच हुए मुकाबले के बाद टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन टेस्ट के तीसरे दिन टी तक दो विकेट खोकर 78 रन बनाए। दूसरा सेशन खत्म होने के बाद टीम इंडिया 105 रन से पीछे है। मयंक 81 गेंदो पर 52 रन बनाकर क्रीज पर टिके रहे। Also Read - COVID-19: बीसीसीआई ने पुजारा फैमिली की तरह लोगों से घरों में रहने की अपील की

तीसरे दिन की शुरुआत कीवी टीम की पहली पारी के साथ शुरू हुई जो कि 348 रन पर सिमटी। जिसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया को पहला झटका जल्दी लगा। आठवें ओवर में बोल्ट ने सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को टॉम लेथम के हाथों कैच आउट कराया। पहली पारी में बाहर जाती गेंद पर पैर नहीं चला पाने की वजह से आउट हुए शॉ इस बार अंदर आती गेंद को पढ़ने में चूके और हवा में खेलने की कोशिश में कैच आउट हुए। Also Read - चेतेश्‍वर पुजारा: बार- बार मन करता है घर से बाहर निकलूं और...

27 रन के स्कोर पर पहला विकेट खोने के बाद चेतेश्वर पुजारा ने अग्रवाल के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने कीवी टीम के पेस अटैक का डटकर सामना किया। इस बीच मयंक ने अपने टेस्ट करियर का चौथा अर्धशतक जड़ा। Also Read - COVID-19: टीम इंडिया के ओपनर मयंक अग्रवाल बोले, LOCKDOWN में ऐसे बिताएं घर पर समय

न्यूजीलैंड ने बनाए 348 रन, 183 रन की बढ़त हासिल की

हालांकि टी ब्रेक से ठीक पहले पुजारा को बोल्ड कर बोल्ट ने इस अर्धशतकीय साझेदारी को तोड़ा। 32वें ओवर की आखिरी गेंद पर पुजारा अंदर आती हुई गेंद की लाइन को सही से पढ़ नहीं पाए और आगे खेलने की कोशिश में बोल्ड हुए। पुजारा 81 गेंदो पर 11 रन बनाकर पवेलियन लौटे।