माउंट मांगुनई में खेले गए आखिरी टी20 मैच में न्यूजीलैंड को 7 रन से हराकर टीम इंडिया (Team India) ने नया रिकॉर्ड बना दिया। टीम इंडिया टी20 अंतरराष्ट्रीय में पांच मैचों की सीरीज में किसी टीम को क्लीन स्वीप करने वाली विश्व की पहली टीम बन गई है। टिम सेफर्ट (Tim Seifert) और रॉस टेलर (Ross Taylor) की अर्धशतकीय पारियां भी न्यूजीलैंड को जीत नहीं दिला सकीं। Also Read - India vs England, ODI Series: जॉनी बेयरस्टो बने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, जानिए सीरीज के टॉप-5 गेंदबाज

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के अर्धशतक के बाद तेज गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारत ने कीवी टीम को मात देकर 5-0 से सीरीज पर कब्जा किया। भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। जबकि शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) और नवदीप सैनी (Navdeep Saini) को 2-2 सफलताएं मिली। Also Read - Sam Curran को MoM, बेयरस्‍टो को सीरीज दिए जाने से हैरान हैं Virat Kohli, इन्‍हें बताया अपना चैंपियन

164 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कीवी टीम को पहला झटका बुमराह ने दिया। बुमराह ने अपने पहले ही (पारी के दूसरे) ओवर की तीसरी गेंद पर फॉर्म में चल रहे मार्टिन गप्टिल को मात्र 2 रन पर विकेट के सामने चकमा देकर एलबीडब्ल्यू आउट किया। Also Read - IND vs ENG: रोमांचक मैच में आखिरकार जीता भारत, तस्वीरों में देखें इस मैच के बड़े हाईलाइट्स

गप्टिल के आउट होने के बाद कॉलिन मुनरो का साथ देने आए विकेटकीपर बल्लेबाज सेफर्ट। सेफर्ट ने मुनरो के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया और दोनों बल्लेबाजों ने कई शानदार शॉट लगाए। भारत के लिए इस साझेदारी को तोड़ना बेहद जरूरी था और ये काम किया ऑफ स्पिन वाशिंगटन सुंदर ने।

तीसरे ओवर में सुंदर ने मुनरो को स्विंग से मात देकर बोल्ड किया। मुनरो 6 गेंदो पर 15 रन की पारी खेलकर पवेलियन लौटे। हालांकि दूसरे छोर पर सेफर्ट की शानदार बल्लेबाजी जारी रही। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए टॉम ब्रूस तीन गेंद खेलकर बिना खाता खोले रन आउट हो पवेलियन लौट गए।

टेलर-सेफर्ट की जोड़ी ने खेला भारत का सबसे महंगा टी20 ओवर

जिसके बाद सेफर्ट और अनुभवी खिलाड़ी टेलर ने मिलकर न्यूजीलैंड की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने अर्धशतक जड़े और चौथे विकेट के लिए 99 रन की ठोस साझेदारी बनाई। 10वें ओवर में टेलर और सेफर्ट ने मिलकर शिवम दुबे के खिलाफ 34 रन जड़े जो टी20 अंतरराष्ट्रीय में भारत की तरफ से सबसे महंगा ओवर साबित हुआ। इस ओवर में चार छक्के और दो चौके लगे।

13वें ओवर में 30 गेंदो पर 50 रन बना चुके सेफर्ट हवा में खेलने की कोशिश में संजू सैमसन को आसान सा कैच दे बैठे। जिसके बाद रनों की गति धीमी हुई। टेलर एक छोर से टिके रहे लेकिन 14वें ओवर डेरिल मिशेल (2) के बुमराह का शिकार बने।

शार्दुल ने कराई मैच में वापसी

17वें ओवर की तीसरी गेंद पर मिशेल सैंटनर (6) भी शार्दुल ठाकुर के खिलाफ बड़ा शॉट खेलने की
कोशिश में बाउंड्री पर खड़े मनीष पांडे को कैच देकर पवेलियन गए। ओवर की पांचवीं गेंद पर नए बल्लेबाज स्कॉट कुग्गेलेइजिन भी कैच आउट हुए और कीवी पारी की जिम्मेदारी टेलर पर आ गई।

17 ओवर के बाद कीवी टीम को जीत के लिए 31 रनों की जरूरत थी। 18वां ओवर कप्तान राहुल ने नवदीप सैनी को दिया और पहली ही गेंद पर सेट बल्लेबाज टेलर बल्ले का बाहरी किनारा देकर विकेटकीपर के हाथों कैच आउट हुए। जिसके बाद कीवी टीम की जीत की आखिरी उम्मीद भी खत्म हो गई।

आखिरी ओवर का दबाव फिर नहीं झेल सके कीवी बल्लेबाज

19वां ओवर डालने बुमराह आए और दूसरी गेंद पर साउदी को बोल्ड पर भारत को नौवीं सफलता दिलाई। ओवर में मात्र तीन रन देकर बुमराह ने आखिरी में न्यूजीलैंड के सामने 21 रन का लक्ष्य रखा। 20वें ओवर में ठाकुर की पहली की दूसरी गेंद पर सोढ़ी ने मिड विकेट की तरफ छक्का जड़ा। चौथी गेंद पर एक और लंबा छक्का लगाकर सोढ़ी ने दर्शकों का उत्साह बढ़ाया लेकिन जीत कीवी टीम से कोसों दूर जा चुकी थी।

सोढ़ी की 16 रनों की संघर्षपूर्ण पारी के बावजूद कीवी टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 156 रन ही बना सकी और 7 रन से पांचवां टी20 हारकर सीरीज में 0-5 से हार गई।