नई दिल्ली : वर्ल्ड कप 2019 का तीसरा मुकाबला न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बीच हो रहा है. न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बॉलिंग का फैसला किया है. श्रीलंकाई टीम पहले बैटिंग करने मैदान में उतरेगी. कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने अनुभवी गेंदबाज लसिथ मलिंगा और एंजले मैथ्यूज को प्लेइंग इलेवन में जगह दी है. जबकि युवा खिलाड़ियों को भी मौका दिया है. दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम में मार्टिन गुप्टिल, ट्रेंट बोल्ट और रोस टेलर जैसे खिलाड़ियों को मौका दिया गया है.

श्रीलंकाई टीम की बात करें तो उसके लिए पिछला एक साल बहुत खराब रहा है. टीम ने पिछले 12 महीने में 21 वनडे इंटरनेशनल मैच खेले. इस दौरान उसने सिर्फ 4 मैच जीते. श्रीलंकाई टीम को 16 मैचों में हार का सामना करना पड़ा. हालांकि टीम थोड़ा संतुलन में नजर आ रही है. वहीं न्यूजीलैंड की बात करें तो वह श्रीलंका की अपेक्षा ज्यादा मजबूत नजर आती है. न्यूजीलैंड का बॉलिंग अटैक प्रभावी है. इसके साथ-साथ टीम का बैटिंग लाइन अप भी मजबूत है.

आर्चर की ‘स्पीड’ के फैन हुए मोईन अली, बताया अब तक सबसे फास्ट बॉलर

प्लेइंग इलेवन –

न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, रॉस टेलर, कोलिन डी ग्रांडहोम, मैट हेनरी, लॉकी फग्र्यूसन, टॉम लाथम, कोनिल मनुरो, जिम्मी नीशाम, मिशेल सैंटनर, ट्रेंट बोल्ट.

श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), लाहिरू थिरिमाने, कुशल परेरा (विकेटकीपर), एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डी सिल्वा, इसुरु उदाना, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, कुशल मेंडिस, लसिथ मलिंगा, सुरंगा लकमल.