नई दिल्ली : न्यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्टन में खेले गए टी-20 मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा. निर्णायक और बेहद रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड ने 4 रन से जीत हासिल की. इस जीत के साथ न्यूजीलैंड ने 3 मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा किया. टीम के लिए आखिरी मैच में कॉलिन मुनरो ने शानदार बैटिंग करते हुए 72 रन बनाए. उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. जबकि भारत के लिए विजय शंकर, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या ने आतिशी पारियां खेलीं. हालांकि इसके बावजूद भारत को जीत नहीं मिल सकी. Also Read - देखें VIDEO: PPE किट पहनकर कहां निकली कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम

Also Read - ICC World Cup Super League points table: द. अफ्रीका को हराकर दूसरे स्‍थान पर पहुंचा पाकिस्‍तान, भारत की हालत पतली

हैमिल्टन के सेडन पार्क स्टेडियम में पहले बैटिंग करते हुए न्यूजीलैंड ने भारत को 213 रन का लक्ष्य दिया. इसके जवाब में उतरी टीम इंडिया ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 208 रन बनाए. उसे 4 रन से हार का सामना करना पड़ा. लेकिन मुकाबला कांटे की टक्कर का रहा. भारत को आखिरी ओवर में 16 रनों की जरूरत थी. लेकिन क्रीज पर खड़े दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या 11 रन ही बना पाए. कार्तिक ने आखिरी गेंद पर छक्का भी जड़ा. उन्होंने 16 गेंदों का सामना करते हुए 4 छक्कों की मदद से नाबाद 33 रन बनाए. जबकि क्रुणाल ने 13 गेंदों का सामना करते हुए 2 छक्कों और 2 चौकों की मदद से नाबाद 26 रन बनाए. Also Read - मैं रिषभ पंत से प्रभावित हूं क्योंकि मुझे लगता है कि वो मैचविनर है: BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली

भारत की शुरुआत खराब रही. पहला विकेट ओपनर शिखर धवन के रूप में गिरा. वो महज 5 रन बनाकर आउट हुए. जबकि रोहित शर्मा ने 32 गेंदों में 38 रन बनाए और आउट हो गए. विजय शंकर ने काफी आक्रामक खेल दिखाया. उन्होंने 28 गेंदों का सामना करते हुए 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 43 रन बनाए. ऋषभ पंत ने 12 गेंदों का सामना करते हुए 3 छक्कों और एक चौके की मदद से 28 रन बनाए. हार्दिक 21 रन बनाकर आउट हुए. महेन्द्र सिंह धोनी सिर्फ 2 रन ही बना पाए.

इससे पहले कोलिन मुनरो (72) और टिम सेइफर्ट (43) की शानदार पारियों के दम पर न्यूजीलैंड ने निर्णायक टी-20 मुकाबले में चार विकेट पर 212 रन का विशाल स्कोर बना लिया. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम को मुनरो और सेइफर्ट ने तेजतर्रार शुरुआत दी. दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 7.4 ओवर में 80 रनों की साझेदारी की. चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने सेइफर्ट को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों स्टंप कराकर भारत को पहली सफलता दिलाई.

VIDEO: धोनी की स्टम्पिंग देख चकराया अंपायर का माथा, फैसला लेने के लिए अपनाया ये तरीका

सेइफर्ट ने 25 गेंदों पर तीन चौके और इतने ही छक्के लगाए. सेइफर्ट के आउट होने के बाद मुनरो ने कप्तान केन विलियम्सन के साथ दूसरे विकेट के लिए 55 रन जोड़े. कुलदीप ने यहां भी मुनरो को हार्दिक पांड्या के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी का अंत किया. मुनरो ने 40 गेंदों की तेजतर्रार पारी में पांच चौके और इतने ही छक्के लगाए. टी-20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में मुनरो का यह नौवां अर्धशतक है. उन्होंने इसी मैदान पर पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में 18 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया था.

हार्दिक पांड्या के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, क्रुणाल भी इस लिस्ट में शामिल

मुनरो के आउट होने के बाद विलियम्सन भी खलील अहमद की गेंद पर कुलदीप को कैच थमा बैठे. उन्होंने 21 गेंदों पर तीन चौकों की सहायता से 27 रनों का योगदान दिया. उनके अलावा कोलिन डीग्रैंडहोम ने 16 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 30, डेरी मिशेल ने 11 गेंदों पर तीन चौकों के दम पर नाबाद 19 और रॉस टेलर ने सात गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की सहायता से नाबाद 14 रन की पारी खेली. किवी टीम ने आखिरी के पांच ओवरों में 61 रन जोड़े. भारत की ओर से कुलदीप यादव ने 26 रन पर दो विकेट और भुवनेश्वर कुमार तथा खलील अहमद ने एक-एक विकेट अपने नाम किए.