वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC WTC Final) के फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को 8 विकेट से हराने के बाद पूरे न्यूजीलैंड में उत्साह का माहौल है. कीवी टीम ने करीब 20 साल बाद आईसीसी ट्रॉफी का कोई खिताब अपने नाम किया है. इससे पहले उसने पहली बार मिनी वर्ल्ड के रूप में जानी जाने वाली आईसीससी चैंपियन्स ट्रॉफी के खिताब पर साल 2000 में अपना कब्जा जमाया था. इस जीत के बाद न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज क्रिकेटरों ने यह मानने से जरा भी गुरेज नहीं किया कि मौजूदा कीवी टीम में उसके इतिहास कई सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मौजूद हैं.Also Read - ENG vs NZ, 3rd Test: कोविड-19 से उबरे विलियमसन-कॉनवे, तीसरे टेस्‍ट में रहेंगे उपलब्‍ध

बता दें यह भी रोचक तथ्य हैं कि न्यूजीलैंड ने अब तक जीते दो आईसीसी खिताबों में दोनों बार भारतीय टीम को ही मात दी है. साल 2000 में उसने सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के नेतृत्व वाली भारतीय टीम को चैंपियन्स ट्रॉफी में हराया था और सब 2021 में विराट कोहली (Virat Kohli) के नेतृत्व वाली टीम इंडिया को हराकर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया है. Also Read - ENG vs NZ: तीसरे टेस्ट से पहले न्यूजीलैंड को तगड़ा झटका, इस बल्लेबाज को हुआ कोरोना

ब्रेंडन मैकुलम और रिचर्ड हैडली जैसे न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटरों ने केन विलियम्सन (Kane Williamson) की कप्तानी में WTC का खिताब जीतने पर टीम की सराहना करते हुए कहा कि मौजूद टीम के खिलाड़ी उनके इतिहास के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं. मैकुलम ने कहा, ‘यह मुकाबला काफी अलग था. इसमें पिछले दो वर्ल्ड कप जैसा अहसास हो रहा था लेकिन हमने मौसम के विपरीत अच्छा नतीजा प्राप्त किया. ऐसे बड़े मैच में भारतीय टीम को हराना बड़ी बात है.’ Also Read - जॉनी बेयरस्टो के धमाकेदार शतक की मदद से न्यूजीलैंड को हरा इंग्लैंड ने ट्रेंट ब्रिज के मैदान पर रचा इतिहास

उन्होंने कहा, ‘मुझे यकीन है कि वर्षो तक हम जब इस पल को याद करेंगे तो हमें गर्व होगा कि विलियम्सन के नेतृत्व वाली टीम ने क्या उपलब्धि हासिल की थी.’

मैकुलम ने कहा, ‘एक ऐसा देश जिसके पास सीमित संसाधन है और वह वर्ल्ड क्रिकेट के पावरहाउस कही जाने वाली टीम के खिलाफ ऐसा प्रदर्शन करे तो वो काफी सुखद है और बड़े मैच में ऐसा करने से ज्यादा संतुष्टि मिलती है.’

हैडली ने न्यूजीलैंड क्रिकेट के जरिए बयान जारी कर कहा, ‘पूरी टीम ने उच्च डिग्री का प्रोफेशनलिजम दिखाया. मैनजमेंट और सहायक स्टाफ ने भी इन खिलाड़ियों को उच्च स्तर पर प्रदर्शन करने के लिए एक बड़ी भूमिका अदा की है.’

उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ वर्षों में न्यूजीलैंड क्रिकेट ने मजबूत खिलाड़ी चुने हैं, जिसके कारण हमारी टीम वर्ल्ड क्रिकेट की सर्वाधिक प्रतिस्पर्धी टीम में से एक है. यह कहना गलत नहीं होगा कि मौजूदा टीम के खिलाड़ी हमारे इतिहास के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं.’

(इनपुट: एजेंसी)