इंग्लैंड (England) ने क्रिस सिल्वरवुड (Chris Silverwood) को अपना नया मुख्य क्रिकेट कोच नियुक्त किया है। वो ट्रेवर बेलिस की जगह लेंगे जिनका कॉन्ट्रेक्ट पिछले महीने खत्म हो गया। सिल्वरवुड पिछले दो साल से इंग्लैंड टीम के तेज गेंदबाजी कोच की भूमिका निभा रहे थे। सिल्वरवुड की पहली प्रतिस्पर्धी सीरीज इंग्लैंड के न्यूजीलैंड दौरे पर होगी, जिसमें नवंबर में पांच मैचों की टी20 सीरीज के अलावा दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन (Gary Kirsten) और सरे के क्रिकेट निदेशक एलेक स्टुअर्ट ऑस्ट्रेलिया के बेलिस की जगह लेने के दावेदार थे। इंग्लैंड के पुरुष क्रिकेट के डॉयरेक्टर एश्ले जाइल्स ने हालांकि सिल्वरवुड को ‘असाधारण उम्मीदवार’ करार दिया।

जाइल्स ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि वो ऐसा व्यक्ति है जिसकी हमें हमारी अंतरराष्ट्रीय टीमों को आगे ले जाने के लिए जरूरत है। वो ऐसा व्यक्ति है जिसे हम अच्छी तरह जानते हैं लेकिन ये उसकी हमारे ढांचे और प्रणाली की गहरी समझ के साथ टेस्ट कप्तान जो रूट (Joe Root) और सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) के साथ करीबी रिश्ते हैं जिससे अगले कुछ सालों में हमें अपनी योजना तैयार करने में मदद मिलेगी।’’

गैरी कर्स्टन नहीं ये पूर्व खिलाड़ी बना इंग्लैंड का कोच

इंग्लैंड के लिए 1996 से 2002 के बीच छह टेस्ट और सात वनडे मैच खेलने वाले 44 साल के सिल्वरवुड के मार्गदर्शन में एसेक्स ने 2017 में काउंटी चैंपियनशिप जीती जिसके बाद वो राष्ट्रीय टीम से जुड़ गए।

सिल्वरवुड ने कहा कि वो अपनी नई भूमिका को लेकर रोमांचित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘काफी प्रतिभा सामने आ रही है और इसमें प्रगति की काफी क्षमता है। कड़ी मेहनत अब शुरू होगी और मुझे यकीन है कि न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के अपने सर्दियों के दौरे पर हम सकारात्मक प्रभाव छोड़ पाएंगे।’’

इंग्लैंड ने जुलाई में पहली बार 50 ओवर का विश्व कप जीता था लेकिन टीम ऑस्ट्रेलिया से एशेज सीरीज जीतने में नाकाम रही। ऑस्ट्रेलिया ने 2-2 के ड्रा के साथ एशेज अपने पास बरकरार रखी।