इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League 2020) के 13वें एडिशन के शुरू होने में अब महज 4 दिन बचे हैं.  ऐसे में सभी टीमों ने यूएई में अपनी तैयारी तेज कर दी है.  प्रत्येक वर्ष की तरह इस बार भी खिलाड़ी बल्ले और गेंद से धमाल मचाने को तैयार हैं.  भारतीय टीम के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने विंडीज बल्लेबाज निकोलस पूरन (Nicholas Pooran) की जमकर तारीफ की है.  गंभीर का कहना है कि इस बल्लेबाज के पास क्रिकेट के वो सभी शॉट्स मौजूद है जो एक क्रिकेटर के पास होनी चाहिए.Also Read - भारत के खिलाफ शतक लगाकर क्विंटन डी कॉक ने तोड़ा तेंदुलकर-सहवाग का रिकॉर्ड; डीविलियर्स के बराबर पहुंचे

 पूरन मैदान के चारों ओर शॉट खेलने में माहिर हैं : गौतम गंभीर  Also Read - IPL 2022: मेगा ऑक्शन से पहले जानें किस टीम में रीटेन किए कौन से खिलाड़ी

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज एबी डीविलियर्स (AB de Villiers) को हर तरह के शॉट खेलने के लिए जाना जाता है. वह किसी भी दिशा में शॉट खेल सकते हैं.  गंभीर का मानना है कि युवा निकोस पूरन भी डीविलियर्स की तरह सभी तरह के शॉट खेलने में सक्षम हैं. Also Read - भारत के खिलाफ विस्फोटक शतक जड़ने के बाद फैंस ने एबी डिविलियर्स से की रासी वान डेर डूसन की तुलना

कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) के पूर्व कप्तान गंभीर को पूरन से आईपीएल 2020 में काफी उम्मीदें हैं.  गंभीर ने इस बाएं हाथ के बल्लेबाज के बारे में कहा कि जिस तरह से उन्होंने हाल में संपन्न कैरेबियाई प्रीमियर लीग में प्रदर्शन किए वह काबिलेतारीफ है.  गंभीर ने कहा कि पूरन ने साउथ अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज की तरह ऑलराउंड प्रदर्शन किया.

मैं आईपीएल में युवा खिलाड़ी निकोलस पूरन को देखना चाहूंगा : गंभीर 

बाएं हाथ के पूर्व ओपनर गंभीर ने स्टार स्पोटर्स के प्रोग्राम में कहा, ‘ मैं आईपीएल में युवा खिलाड़ी निकोलस पूरन को देखना चाहूंगा.  हम एबी डीविलियर्स के 360 डिग्री के बारे में बात करते हैं लेकिन निकोलस पूरन के पास भी सभी तरह के शॉट्स हैं.  वह रिवर्स स्वीप, नॉर्मल स्वीप और बड़े शॉट्स खेलने की क्षमता रखते हैं. ‘

38 वर्षीय गंभीर ने कहा कि अनिल कुंबले (Anil Kumble) जैसे दिग्गज की देखरेख में खेलने से पूरन को काफी फायदा होगा.  पूरन आईपीएल 2020 में किंग्स इलेवन पंजाब टीम की ओर से खेलेंगे.   इस टीम  के डायरेक्टर हैं कुंबले.

बकौल गंभीर, ‘ अनिल कुंबले की देखरेख में इस तरह के खिलाड़ी का खेलना वाकई उनके आत्मविश्वास को बढ़ाने वाला होगा.  कुंबले एक बेहतरीन कोच हैं जिन्होंने मुंबई इंडियंस को खिताब दिलाए हैं.