नई दिल्ली: फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में ग्रुप-डी के अहम मैच में सेंट पीटर्सबर्ग स्टेडियम में मंगलवार को अर्जेंटीना का सामना नाइजीरिया से होगा. अंकतालिका में क्रोएशिया छह अंकों के साथ पहले स्थान पर है और अगले दौर में जगह बना चुका है. नाइजीरिया के दो मैचों में एक जीत के साथ तीन अंक हैं और वो दूसरे स्थान पर है. आइसलैंड और अर्जेंटीना के एक-एक अंक है, लेकिन बेहतर गोल अंतर के कारण आइसलैंड तीसरे स्थान पर है.

अगर अर्जेंटीना आखिरी मैच में नाइजीरिया को हरा देता है तो फिर उसे क्रोएशिया और आइसलैंड के बीच होने वाले मैच पर नजरें रखनी होंगी और दुआ करनी होगी की क्रोएशिया पहली बार विश्व कप खेल रही आइसलैंड को मात दे दे. यही एक समीकरण है जो अर्जेंटीना को खिताब की दौड़ में रख सकता है. अर्जेंटीना को नाइजीरिया को बड़े अंतर से मात देनी होगी क्योंकि अगर आइसलैंड भी क्रोएशिया को हरा देता और अर्जेंटीना नाइजीरिया को मामूली अंतर से हराता है तो आइसलैंड बेहतर गोल अंतर के रहते हुए अगले दौर का टिकट कटा लेगा.

भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज ए को 7 विकेट से हराया, मयंक अग्रवाल ने जड़ा शतक

लेकिन नाइजीरिया अर्जेंटीना से ड्रॉ भी खेल लेती है तो भी वह अगले दौर में जा सकती है. यह मैच अर्जेंटीना के लिए बेहद अहम है. अर्जेंटीना इस अहम मैच में पुरानी गलतियां नहीं कर सकता. दोनों मैचों में उसके डिफेंस ने बेहद निराश किया है. नाइजीरिया के खिलाफ भी अगर टीम ने इसमें सुधार नहीं किया तो उसका नुकसान बहुत बड़ा होगा.

गेंदबाजों के छक्के छुड़ा देते हैं टीम इंडिया के 5 बल्लेबाज, जानें कौन हैं ये ‘बिग हिटर’

अर्जेंटीना की उम्मीदें अपने कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी लियोनेल मेसी पर हैं. मेसी को इस मैच में अपना जादू दिखाना होगा. वहीं अगर नाइजीरिया की बात की जाए तो पहले मैच में क्रोएशिया से मिली हार के बाद टीम ने अगले मैच में आइसलैंड को आसानी से 2-0 से मात दी थी. उस मैच में अहमद मुसा ने अपनी टीम के लिए दो गोल किए थे. टीम का भार उन्हीं के कंधों पर है.

नाइजीरिया को इस मैच में सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि अर्जेंटीना घायल शेर है और वापसी को उतारू है. नाइजीरियाई डिफेंस को जरूरत से ज्यादा सतर्क और चुस्त रहने की जरूरत है.

एक वीडियो से मिला विराट कोहली को इंग्लैंड में टीम इंडिया की जीत का सीक्रेट!

टीम अर्जेंटीना :

गोलकीपर – विल्फ्रेडो काबालेरो, फ्रांको अमार्नी, नाहुएल गुजमान.

डिफेंडर – गेब्रिएल मासेडरे, जेवियर माशेरानो, निकोल्स ओटामेंडी, फेडरिको फाजियो, मार्कोस रोजो, निकोल्स टागलियाफिको, क्रिस्टियन एंसाल्डी, मार्कोस अकुना.

मिडफील्डर – लुकास बिगलिया, एडुआडरे साल्वियो, एवेर बानेगा, एंजेल डी मारिया, एंजो पेरेज, गियोवानी लो सेल्सो, मैक्सीमिलियानो मेजा.

फॉरवर्ड – लियोनेल मेसी, सर्गियो एगुएरो, गोंजालो हिगुएन और पाउलो डेबाला.

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन को पढ़ाया जीत का शास्त्र!

टीम नाइजीरिया :

गोलकीपर – फ्रांसिस यूझोहो, इकेचाुक्वु इजेनेवा, डेनियल अक्पेयी.

डिफेंडर – विलियम ट्रस्ट-इकोंग, अबुदुल्लाही सेहु, टायरोने इबुएही, एल्डरसन, इचेहिजीले, ब्रायन इडुवो, चिडजोई अवेजेइम, लियोन बालोगुन, केनेथ ओमेरेयु.

मिडफील्डर – मिकेल जॉन ओबी, ओगेनयी ओनाजी, विलफ्राइड नदिदी, ओगेनेकारो इटेबो, जॉन ओगु, जोएल ओबी.

फॉरवर्ड – अहमद मुसा, केलेची इहेननाचो, विक्टल मोजेज, ओडियोन इघालो, एलेक्स इवोबी, सिमोने न्वान्को.