नई दिल्ली.  क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने उन खबरों का खंडन किया है जिनमें कहा जा रहा था कि बोर्ड बॉल टेम्परिंग विवाद में प्रतिबंध झेल रहे पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ, पूर्व उप-कप्तान डेविड वार्नर और सलामी बल्लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट की सजा में रियायत बरत सकता है. इन तीनों खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बॉल टेम्परिंग का दोषी पाए जान के बाद प्रतिबंधित कर दिया गया था. Also Read - विराट कोहली-स्टीव स्मिथ के बराबर पहुंच गए हैं बाबर आजम : नासिर हुसैन

Also Read - क्रिकेट को अलविदा कहने से पहले भारत में टेस्ट सीरीज जीतना चाहते हैं स्टीव स्मिथ, बताई ये वजह

बॉल टेंपरिंग के बैन के बीच डेविड वॉर्नर करेंगे इस क्रिकेट टीम की कप्तानी Also Read - IPL 2020: शुरुआती मैचों में हिस्सा नहीं लेंगे डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ और बेन स्टोक्स

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने सीए के प्रवक्ता के हवाले से लिखा है, “हम खिलाड़ियों के ऊपर लगाए गए प्रतिबंध में कमी करने के बारे में नहीं सोच रहे हैं.” उन्होंने कहा, “सीए का संविधान खिलाड़ी के आरोप कबूल करने के बाद प्रतिबंध में कमी की इजाजत नहीं देता. हाल ही में जो इस तरह की खबरें आई हैं वो कोरी अफवाहें हैं.”

स्मिथ और वार्नर पर सीए ने एक-एक साल का प्रतिबंध लगाया थो तो वहीं बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीनों का प्रतिबंध सौंपा था. इन तीनों खिलाड़ियों पर  साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए केपटाउन टेस्ट के दौरान बॉल टेंपरिंग यानी गेंद से छेड़-छाड़ का आरोप लगा था.