शीर्ष टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) ने रविवार को पेरिस मास्टर्स (Paris Masters) फाइनल में कनाडा के युवा डेनिस शापोवालोव को हराकर रिकॉर्ड पांचवीं बार ये खिताब अपने नाम किया। इस ट्रॉफी को जीतने के साथ ही उन्होंने साल के अंत में जारी होने वाली विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर रहने की उम्मीद बढ़ा दी।

रिकॉर्ड पांचवां खिताब जीतने पर जोकोविच ने कहा, “मुझे लगता है कि मुझे टूर्नामेंट की अब तक की सर्वश्रेष्ठ सर्विंग मिली और इसी वजह से मैच काफी छोटा था। इस हफ्ते खेला मेरा अब तक का सबसे शानदार मैच। और मुझे लगता है कि इस हफ्ते का दूसरा हिस्सा बेहद कमाल था। इस जीत से और ज्यादा खुश नहीं हो सकता।”

अपने 50वें मास्टर्स फाइनल में खेल रहे जोकोविच ने 20 साल के प्रतिद्वंद्वी शापोवालोव (28 रैंकिंग) को 6-3, 6-4 से शिकस्त दी जो राफेल नडाल के सेमीफाइनल से हटने के कारण फाइनल में पहुंचे।

जोकोविच हालांकि अगले हफ्ते जारी होने वाली रैंकिंग में नडाल से पीछे ही रहेंगे लेकिन वो फिर भी पीट सम्प्रास के छठें साल शीर्ष पर रहने के रिकार्ड की बराबरी कर सकते हैं।

मुशफिकुर रहीम के अर्धशतक से बांग्‍लादेश की टी20 में भारत पर पहली जीत

सोलह बार के ग्रैंडस्लैम चैम्पियन के नाम अब 34 मास्टर्स खिताब और एटीपी टूर में कुल 77 ट्रॉफी हैं। वो मास्टर्स खिताब में नडाल (35 ट्रॉफी) से केवल एक ट्रॉफी पीछे हैं।

ये जोकोविच की इस सीजन में पांचवीं ट्रॉफी थी। इससे पहले उन्होंने विम्बलडन और ऑस्ट्रेलियाई ओपन ग्रैंडस्लैम के अलावा मैड्रिड ओपन और तोक्यो में खिताब जीते हैं।