नई दिल्लीः विश्व कप 2019 में करारी हार के बाद पाकिस्तान की कड़ी आलोचना हुई थी और हार की सारी जिम्मेदारी कप्तान सरफराज अहमद के सिर फोड़ी गई. वर्ल्ड कप की हार को भुलाने के लिए और लोगों के गुस्से को कम करने के लिए पाकिस्तान ने श्रीलंका की युवा टीम के साथ सीरीज खेलने से पहले बड़ी जोरों से इसकी चर्चा की. ऐसा माना जा रहा था कि पाकिस्तान की क्रिकेट टीम इस सीरीज में एक बड़ा पलटवार करेगी लेकिन इस सिरीज में भी उसे युवा टीम के हाथों हार मिली.

सीरीज दर सीरीज में मिल रही हार के कारण पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शुक्रवार को कप्तान सरफराज अहमद को एक बड़ा झटका दिया और कप्तानी पद से हटा दिया. कप्तानी से हटाए जाने के बाद इन बातों ने जोर पकड़ लिया कि सरफराज अब जल्द ही क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे. इस बीच सरफराज की पत्नी ने उनका साथ दिया और इस पूरे मुद्दे में एक बड़ा बयान दिया. पत्नी सैयदा खुशबख्त ने कहा कि अभी सरफराज का संन्यास लेने का कोई इरादा नहीं है.

INDvSA: साउथ अफ्रीका को फॉलोऑन देते ही विराट ने तोड़ा अजहरुद्दीन का रिकॉर्ड

उन्होंने अपने बयान में भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का उदाहरण पेश करते हुए कहा कि धोनी अब 38 साल के हैं और वे अभी तक क्रिकेट खेल रहे है और उन्होंने संन्यास पर कोई फैसला नहीं किया है फिर सरफराज कैसे संन्यास ले सकते हैं. पूर्व कप्तान की पत्नी ने कहा कि यह सब बाते हमें अभी कुछ दिन पहले ही पता चली है लेकिन सरफराज के संन्यास की बातें पूरी तरह से बुनियादी हैं. उन्होंने कहा कि धोनी 38 साल के हैं जबकि सरफराज 32 साल के हैं फिर तो उनके संन्यास की बात ही नहीं उठती.

खुशबख्त ने कहा कि कप्तानी से हटाए जाने के बाद अब सरफराज पर किसी भी तरह का दबाव नहीं रहेगा और वो खुलकर अपना स्वाभाविक खेल खेल सकते हैं. कप्तानी से हटाए जाने के बाद सरफराज के सपोर्ट में पाकिस्तान में कई जगहों पर इसका कड़ा विरोध किया गया. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सरफराज के मामले में थोड़ी सी रिआयत बरती है और उन्हें अभी तक ए श्रेणी की सूचीं में ही रखा गया है.

यह पहला मौका नहीं है जब उन्होंने धोनी की बड़ाई की है इससे पहले भी कई बार उन्होंने धोनी और उनकी पत्नी को लेकर बयान दिए हैं. इससे पहले जब सरफराज को टी20 टीम का कप्तान बनाया गया था तब भी उन्होंने धोनी को लेकर बड़ी बड़ी बातें कही थीं.