On this day In 1956 Jim Laker creates history at Old Trafford, Takes 10 wickets in a Test innings: टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में आज 31 जुलाई का दिन बेहद खास है. इस दिन साल 1956 में इंग्लैंड के स्पिन गेंदबाज जिम लेकर (Jim Laker) ने एक टेस्ट मैच की एक पारी में सभी 10 विकेट चटकाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया था. Also Read - नहीं बदलेगा 'अंपायर्स कॉल' का नियम, अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली कमेटी ने ICC को कहा 'न'

आज से ठीक 64 साल पहले लेकर ने एशेज सीरीज (Ashes Series 1956) के तहत मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड (Old Trafford, Manchester) में खेले गए चौथे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया (England vs Australia) के सभी 10 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई थी. यही नहीं उन्होंने इस टेस्ट में कुल 19 विकेट अपने नाम किए थे. Also Read - टी20 विश्व और एशेज से पहले आर्चर की इंजरी की जड़ तक पहुंचना जरूरी: कोच क्रिस सिल्वरवुड

पहली पारी में 9  बल्लेबाजों को भेजा पवेलियन  Also Read - कोच रवि शास्त्री ने उठाए सवाल 'शीर्ष से नंबर-3 पर कैसे आई भारतीय टीम'; ICC के नियमों की आलोचना की

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था. उसने पहली पारी में 459 रन बनाए. जवाब में इंग्लैंड की टीम जिम लेकर की फिरकी में फंस गई और 84 रन पर ढेर हो  गई. लेकर  ने 16.4 ओवर की अपनी गेंदबाजी में 37 रन देकर कुल 9 विकेट निकाले थे. वह पहली पारी में सभी 10 विकेट लेने से चूक गए थे क्योंकि एक विकेट टॉनी लॉक के खाते में चला गया था.

दूसरी पारी में 53 रन देकर 10 विकेट लिए 

पहली पारी में भारी भरकम बढ़त बनाने के बाद इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन खेलने पर मजबूर किया. ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट मैच के आखिरी दिन यानी 31 जुलाई को अपनी  दूसरी पारी 84 रन पर दो विकेट से आगे शुरू की. बेहतरीन लय में चल रहे लेकर ने लेन मेडकॉक्स के रूप में अपना 10 विकेट हासिल करते हुए इतिहास रच दिया. उन्होंने दूसरी पारी में 51.2 ओवर की गेंदबाजी में 53 रन देकर सभी 10 विकेट चटकाए. नतीजतन मेहमान ऑस्ट्रेलिया 205 रन पर ढेर हो गया और इस तरह उसने इस टेस्ट को पारी और 170 रन से अपने नाम कर लिया. इस जीत से इंगलैंड ने 5 मैचों की सीरीज में 2-1  की बढ़त बनाई.

अनिल कुंबले भी एक पारी में झटक चुके हैं 10 विकेट

किसी टेस्ट मैच की एक पारी में सभी 10 विकेट केवल दो  गेंदबाज ही अब तक चटका पाए हैं. लेकर  के बाद भारतीय दिग्गज अनिल कुंबले (Anil Kumble) भी ये उपलब्धि हासिल कर चुके हैं. कुंबले ने साल 1999  में दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खेले गए टेस्ट मैच में पाकिस्तान के खिलाफ 74 रन देकर सभी 10 विकेट झटके थे.

एक टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज 

जिम लेकर एक टेस्ट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज हैं. इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर इंग्लैंड के सिडनी बर्न्स हैं जिन्होंने 1913 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग में 159 रन देकर 17 विकेट लिए थे जबकि भारत के नरेंद्र हिरवानी 16 विकेटों के साथ तीसरे नंबर पर हैं. हिरवानी ने ये उपलब्धि वेस्टइंडीज के खिलाफ चेन्नई में 1988 में हासिल की थी.

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 1944 विकेट हैं लेकर के नाम

जिम लेकर ने 46 टेस्ट मैचों में कुल 193 विकेट चटकाए हैं जिसमें 13 बार 4, नौ बार 5 और तीन बार 10 विकेट शामिल हैं. उन्होंने 450 फर्स्ट क्लास मैचों में 1944 विकेट अपने नाम किए.