क्रिकेट के ‘भगवान’ सचिन तेंदुलकर ने आज से ठीक 13 साल पहले वनडे क्रिकेट में वो उपलब्धि हासिल की थी जो क्रिकेट सीखते हुए हर बल्लेबाज का सपना होता है. सचिन 29 जून को वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में 15, 000 रन पूरा करने वाले दुनिया के इकलौते क्रिकेटर बने थे.Also Read - शास्त्री के बाद अनिल कुंबले या वीवीएस लक्ष्मण बन सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच

मास्टर ब्लास्टर सचिन ने इस रिकॉर्ड को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने नाम किया था. उन्होंने साल 2007 में बेलफास्ट में खेले गए सीरीज के दूसरे वनडे में 93 रन की पारी खेली थी. तेंदुलकर की इस पारी के दम पर टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 6 विकेट से मात दी थी. Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपनी बल्लेबाजी को और ऊंचे स्तर पर ले गए हैं रोहित शर्मा: सचिन तेंदुलकर

वनडे में सबसे पहले पूरे किए 10,000 रन  Also Read - England vs India, 4th Test: Sachin Tendulkar के क्लब में शामिल हुए Virat Kohli, छू लिया ये बड़ा मुकाम

तेंदुलकर ने 50 ओवर के क्रिकेट में सबसे पहले 10,000 रन भी पूरे किए थे. उन्होंने ये उपलब्धि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ साल 2001 में हासिल की थी. उनके नाम 463 वनडे में 44.83 की औसत से कुल 18,426 रन दर्ज है. वनडे क्रिकेट में सचिन के नाम 49 शतक और 96 अर्धशतक दर्ज है. उनका ये रिकॉर्ड अब तक अटूट है.

वनडे में सबसे पहले जड़ा था दोहरा शतक 

रिकॉर्डों के बेताज बादशाह सचिन के नाम सबसे पहले वनडे में दोहरा शतक जड़ने का भी रिकॉर्ड है. वनडे के अलावा टेस्ट क्रिकेट में भी सचिन ने अपने नाम सर्वाधिक शतक और सर्वाधिक रन बटोरने का कारनामा किया है.

200 टेस्ट में 51 शतक जड़े 

47 वर्षीय सचिन ने 200 टेस्ट मैचों में 53.78 की औसत से कुल 15921 रन बनाए हैं जिसमें 51 शतक और 68 अर्धशतक शामिल है. इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 248 रन रहा. सचिन से संन्यास से पूर्व एक टी20 इंटरनेशनल मैच भी खेला है. लिस्ट ए के 551 मैचों में तेंदुलकर ने 21999  रन बनाए हैं जिसमें 60 शतक और 114 अर्धशतक शामिल है.