सुरेश रैना (Suresh Raina) भले ही मौजूदा समय में टीम से बाहर चल रहे हों, लेकिन धुआंधार पारियां खेल चुके बाएं हाथ के इस बल्‍लेबाज के योगदान को भारतीय फैन्‍स कभी भुला नहीं सकते हैं. 10 साल पहले आज ही के दिन सुरेश रैना ने भारत के टी20 क्रिकेट के इतिहास में एक बड़ा कीर्तिमान अपने नाम किया था. रैना खेल के सबसे छोटे फॉर्मेट में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बने थे. Also Read - युवराज सिंह के 'धोनी का फेवरेट खिलाड़ी' वाले बयान पर सुरेश रैना ने दिया करारा जवाब

मौक था टी20 विश्‍व कप 2010 का और सामने थी साउथ अफ्रीका की टीम. भारत इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में तो प्रवेश नहीं कर पाया था लेकिन रैना ने 101 रन की पारी खेलकर भारत को मैच जिताने में अहम भूमिका निभाई थी. Also Read - रैना ने रोहित और MS Dhoni को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले-दोनों एक जैसे कप्तान

अफ्रीकी टीम ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्‍लेबाजी के लिए बुलाया. मुरली विजय के पहले ही ओवर में आउट होने के बाद नंबर-3 पर बल्‍लेबाजी के लिए सुरेश रैना आए. अपनी पारी में रैना ने नौ चौके और पांच छक्‍के लगाए. रैना ने युवराज सिंह के साथ मिलकर 88 रन की साझेदारी. Also Read - अंबाती रायडू को वर्ल्ड कप टीम से बाहर किए जाने को लेकर गंभीर और एमएसके प्रसाद में हुई तीखी बहस

भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका को मैच जीतने के लिए 187 रन का लक्ष्‍य दिया था. महेंद्र सिंह धाेनी की कप्‍तानी वाली भारतीय टीम ने 14 रन से यह मैच जीत लिया था.

मौजूदा समय में टी20 क्रिकेट में शतकों की बात की जाए तो हिटमैन रोहित शर्मा का कोई जवाब नहीं है. उनके नाम खेल के सबसे छोटे प्रारूप में चार शतक हैं. वहीं केएल राहुल भी दो शतकों के साथ दूसरे स्‍थान पर हैं.