इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले पाकिस्तान टीम के कप्तान अजहर अली (Azhar Ali) ने कहा है कि उनकी टीम कोरोनावायरस के लंबे ब्रेक के बाद दोबारा मैदान पर वापसी करने को तैयार है। पाकिस्तान बुधवार को ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच इंग्लैंड के खिलाफ उतरेगी। इस सीरीज के बाद उसे तीन मैचों की टी-20 सीरीज भी खेलनी है। Also Read - इंग्‍लैंड में फ्लाॅप रहा पाकिस्‍तान का स्‍टार बल्‍लेबाज, आलोचनाओं के बीच बचाव में उतरे कामरान

पहले टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर अजहर ने कहा, “सभी खिलाड़ी खेलने को तैयार हैं। कोविड-19 का समय है और कुछ समय के लिए हमें इसके साथ ही खेलना होगा। हम इस बात से खुश हैं कि हम क्रिकेट मैच खेलने जा रहे हैं जिसे हम सबसे ज्यादा पसंद करते हैं।” Also Read - मिस्‍बाह पर भड़के अख्‍तर: 'कैसी बातें करता है वो, जिम्‍मेदारी उठाने की जगह बहानेबाजी में लगा है

उन्होंने कहा, “इस मुश्किल समय में क्रिकेट के होने पर कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं, लेकिन सबसे अच्छी बात है कि हम खेलना चाहते हैं और अब हम वो करने वाले हैं। इस सीरीज को आयोजित करने का श्रेय इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीब) को जाता है।” Also Read - मोइन अली ने तीन साल के अपने सर्वोच्‍च स्‍कोर के लिए इयोन मोर्गन को दिया श्रेय

उन्होंने कहा, “हमारे पास जो सुविधाएं थीं उनके साथ हमने अच्छी तैयारी की है और ये सुनिश्चित किया है कि कोई भी खिलाड़ी पीछे नहीं छूटे और परेशान नहीं हो, हमने कैम्प का अच्छा लुत्फ उठाया।”

अजहर ने कहा कि टीम इंग्लैंड में हालिया दौर में अपने प्रदर्शन से प्ररेणा लेगी। पाकिस्तान 2010 के बाद से इंग्लैंड में कभी भी टेस्ट सीरीज हारी नहीं है।

अजहर ने कहा, “चुनौती एक ऐसी चीज है जो आपको एक क्रिकेटर के तौर पर लेनी होती है और इंग्लैंड का दौरा हमेशा से मुश्किल रहता है, चाहे कोविड हो या नहीं। लेकिन हमने यहां अपनी बीती सीरीजों में अच्छा किया है। हम इसे दोहराने की कोशिश करेंगे।”

35 साल के इस खिलाड़ी ने माना कि उनका गेंदबाजी आक्रमण अनुभवहीन है लेकिन उन्हें उम्मीद है कि वो अच्छा करेंगे।उन्होंने कहा, “हमारा तेज गेंदबाजी अटैक अनुभवहीन है, लेकिन आपने उनकी प्रतिभा देखी होगी और देखा होगा कि उन्होंने बीती सीरीजों में किस तरह की गेंदबाजी की है। मैं अपने आपको भाग्यशाली कप्तान मानता हूं कि हमारे पास इस तरह के गेंदबाज हैं जो टेस्ट क्रिकेट में किसी भी टीम को परेशान कर सकते हैं। आप अनुभव खरीद नहीं सकते, ये मैच खेलने से आता है, लेकिन इनमें काफी काबिलियत है।”