नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद एक ऐसे विवाद में उलझ गए हैं जिस वजह से उन्हें कड़ी सजा मिल सकती है. डरबन में खेले दूसरे वनडे के दौरान उन्होंने साउथ अफ्रीका के ऑलराउंडर एंडिल फिलक्वायो पर नस्लीय टिप्पणी की है. उसे उन्होंने काला कहा. यहां तक तो फिर भी ठीक था. लेकिन, हार के दबाव में पाक कप्तान ने फिलक्वायो की मां को लेकर भी अभद्र टिप्पणी की, जिसके बाद उनपर अब आईसीसी की आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर कड़ी कार्रवाई हो सकती है. सजा के मुताबिक, सरफराज पर इसके लिए कम से कम 4 टेस्ट या 8 वनडे का बैन लग सकता है.Also Read - ICC Test Rankings: पहली बार टॉप-5 में Shaheen Afridi, जानिए किस स्थान पर Shreyas Iyer?

पाक कप्तान भूले क्रिकेट का कानून! Also Read - कोविड-19 के नए वेरियंट की वजह से ICC ने रद्द किया महिला विश्व कप क्वालिफायर

फिलक्वायो पर सरफराज ने जो नस्लीय टिप्पणी की वो कुछ इस तरह है- ‘अबे काले! तेरी अम्मी आज कहां बैठी हैं? क्या परवा के आया है आज?’ Also Read - T20 World Cup 2021 की व्‍यूअरशिप ने तोड़े पुराने सभी रिकॉर्ड, भारत-पाकिस्‍तान मैच रहा सबसे आगे

गलती पर पर्दा डालते रमीज राजा

सरफराज की इस गलत टिप्पणी पर कमेंट्री बॉक्स में बैठे पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर रमीजा राजा उनका बचाव करते दिखे. क्योंकि, जब कमेंटेटर माइक हेसन ने उनसे सरफराज की कही बातों का मतलब पूछा तो उन्होंने ये कहते हुए टाल दिया कि उसे ट्रांसलेट करना मुश्किल है.

माइक ने खोली सरफराज की पोल

बहरहाल, आपको बता दें कि ये पूरा मामला मैच में साउथ अफ्रीका की पारी के 37वें ओवर का है. ओवर की तीसरी गेंद पर जैसे ही फिलक्वायो ने सिंगल चुराया सरफराज ने उन पर ये अभद्र टिप्पणी की जो कि स्टंप माइक में कैद हो गई और मामले ने तूल पकड़ लिया.

हो सकती है इतनी सजा

सरफराज को फिलक्वायो पर की गई नस्लीय टिप्पणी के लिए ICC के सामने तलब किया जा सकता है. अगर उन्हें ICC के कोड 2.1.1, जो कि नस्लीय टिप्पणी से संबंधित है, का दोषी पाया जाता है तो 4 से 8 सस्पेंशन प्वाइंट का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. बता दें कि 2 सस्पेंशन प्वाइंट का मतलब एक टेस्ट से सस्पेंड होना वहीं 1 सस्पेंशन प्वाइंट का मतलब 1 वनडे पर बैन लगना है.