नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शुक्रवार को राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज नासिर जमशेद पर 10 साल का प्रतिबंध लगाया है. वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ की रिपोर्ट के अनुसार, जमशेद पर यह प्रतिबंध पीसीबी के भ्रष्टाचार विरोधी नियमों के बार-बार किए उल्लंघन के लिए लगाया गया है. तीन सदस्यीय ट्रिब्यूनल ने अपने फैसले में कहा कि किसी भी क्रिकेट प्रारूप से प्रतिबंध के अलावा जमशेद भ्रष्टाचार विरोधी नियमों के पांच से सात बार किए गए उल्लंघन के कारण आजीवन पाकिस्तान क्रिकेट में किसी भी प्रकार के प्रबंधन की जिम्मेदारी निभाने के लिए अयोग्य घोषित होने चाहिए. Also Read - स्पॉट फिक्सिंग मामले में नाम आने के बाद आत्महत्या के विचार से जूझ रहे थे श्रीसंत

पिछले दो वर्षो में यह दूसरी बार जमशेद को दोषी ठहराया गया है. इससे पहले, पिछले साल दिसम्बर में जमशेद को 2017 पीएसएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में सही से सहयोग न देने के लिए एक साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था. इस साल की शुरुआत में जमशेद पर लगा यह प्रतिबंध समाप्त हुआ था, लेकिन अब उन पर एक बार फिर प्रतिबंध लगा है, जो लंबे समय के लिए है. Also Read - B'day Special: पाकिस्तान का वो बल्लेबाज जिसके छक्के ने भारतीय खिलाड़ी को बना दिया 'विलेन'

शाहजेब से पहले सरजील खान (5 वर्ष), खालिद लतीफ (5 वर्ष), नासिर जमशेद (1 वर्ष), मोहम्मद इरफान (1 वर्ष) और मोहम्मद नवाज (2 महीने) पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है. शाहजेब ने अपने आखरी तीन वनडे नवंबर 2010 में खेले थे. Also Read - मुझसे पहले और बाद के खिलाड़ियों ने भी की है फिक्सिंग, मैं दूसरे मौके का हकदार था: आसिफ