पाकिस्तान के इंटरनेशल क्रिकेटरों उमर अकमल और जुनैद खान के बीच हुए विवाद की जांच के लिए पीसीबी ने तीन सदस्यीय कमिटी का गठन किया है. यह घटना रावलपिंडी में पाकिस्तान कप (नेशनल वनडे) मैच के दौरान पंजाब प्रांत के खिलाफ सिंध के खिलाफ मैच के दौरान हुई.

पंजाब प्रांत की कप्तानी कर रहे उमर अकमल ने मैच से पहले टीवी पर कहा कि इस मैच में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जुनैद खान की जगह ऑलराउंडर नसीर नजर को शामिल किया गया है. ये पूछे जाने पर कि जुनैद क्यों नहीं खेल रहे हैं, अकमल ने कहा, ‘जब मैं मैदान पर आया तो मैंने पाया कि वह (जुनैद खान) मौजूद नहीं हैं. मैं बहुत हैरान हूं. मैनेजर और कोच ने मुझे बताया कि वह आज नहीं खेलेंगे. मेरे लिए एक कप्तान के तौर पर ये झटका देने वाली खबर है’.

लेकिन मामला तब गरमा गया जब इसके तुरंत बाद ही अपने होटल के कमरे से जुनैद ने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट करते हुए अकमल की बात से नाराजगी जताते हुए कहा कि वह मैच से भागे नहीं हैं बल्कि उनकी तबीयत खराब है और वह इस मैच में टीम के डॉक्टर की सलाह पर नहीं खेल रहे हैं.

जुनैद ने कहा, ‘मैं इस बात बहुत निराश हूं जोकि उमर अकलम ने कहा है और इससे ऐसा लगता है कि मैं मैच से भाग गया. हकीकत ये है कि मुझे फूड पॉइजनिंग हो गई है और मैंने टीम मैनेजमेंट को इस बारे में सूचित कर दिया था और टीम के डॉक्टर ने ही मुझे आराम करने की सलाह दी थी.’

पीसीबी ने कहा है कि जनरल मैनेजर (घरेलू क्रिकेट मामलों) शफीक अहमद के नेतृत्व में जांच कमिटी मामले की जांच करेगी और अपनी रिपोर्ट सौंपेगी और दोषी पाए जाने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.