नई दिल्ली. एक बड़ा ही मशहूर जुमला है, जिनके अपने घर शीशे के हों उन्हें दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए. लेकिन, पाकिस्तान है कि मानता ही नहीं. इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में टीम इंडिया की हार के किस्से सोशल मीडिया पर तो खूब छाए हुए हैं. लेकिन एक पाकिस्तानी पत्रकार का ट्वीट भारतीय टीम मैनेजमेंट के लिए गले की हड्डी बना हुआ है. खेल पर बारीक नजर रखने वाली पाकिस्तानी पत्रकार जैनब अब्बास ने वनडे सीरीज में इंग्लैंड से टीम इंडिया की हार पर चुटकी ली है और ट्वीट करते हुए उसे नसीहत भी दिया है. पाक जर्नलिस्ट ने ट्वीट किया, ” मुझे ये कहने की जरुरत नहीं है कि स्पिन के आगे टीम इंडिया कमजोरी झलक गई है. इंग्लैंड के कप्तान मॉर्गन ने शानदार कप्तानी की और रैना को लेग स्लिप पर आउट कराया… शायद अब रैना से आगे सोचने का वक्त आ गया?”

पाकिस्तानी खेल पत्रकार के इस ट्वीट ने एक तरह से टीम इंडिया के थिंक टैंक पर सवाल खड़े कर दिए हैं. क्योंकि, इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी वनडे से पहले रैना को प्लेइंग इलेवन खिलाए जाने को लेकर भारतीय टीम के असिस्टेंट कोच संजय बांगड़ ने साफ कहा था कि उन्हें मिडिल ऑर्डर में एक लेफ्ट हैंडर चाहिए और रैना इसके लिए बेहतर विकल्प हैं.

धोनी के रन बनाने से टीम इंडिया को लगने लगा है ‘डर’ !

2018 में मजबूत टीमों के खिलाफ पाकिस्तान का सरेंडर!

बहरहाल, पाकिस्तानी पत्रकार ने एक सीरीज हार से टीम इंडिया पर सवाल खड़े कर उसे नसीहत तो दे दिए लेकिन वो ये भूल गईं कि खुद उनकी टीम कैसा खेल रही है. पाकिस्तान क्रिकेट टीम को साल 2018 में जो पहली वनडे जीत हासिल हुई है वो जिम्बाब्वे जैसी कमजोर टीम के खिलाफ. जबकि, मजबूत टीमों के खिलाफ उसके लिए खाता खोल पाना भी मुश्किल हो गया. इस साल न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में पाकिस्तान का बुरी तरह से क्लीन स्वीप हुआ है.

हार पर ‘वीरूपंती’ 

पाकिस्तान की नसीहत को नजरअंदाज करते हुए भारत के पूर्व धाकड़ सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने अपने ही अंदाज में इंग्लैंड से वनडे सीरीज हारने पर टीम इंडिया का हौसला बढ़ाया है और ये उम्मीद जताई है कि हार से सबक लेकर भारतीय टीम टेस्ट सीरीज में जोरदार वापसी करेगी.

वो कहते हैं न मुश्किल में अपने ही साथ देते हैं. यही फर्क है सहवाग और पाकिस्तानी पत्रकार के ट्विटर रिएक्शन में.