भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के उपाध्यक्ष महिम वर्मा ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष एहसान मनी को आड़े हाथों लेते हुए करारा जवाब दिया है. दरअसल मनी ने एक दिन पहले कहा था कि भारत में उनके देश से ‘अधिक सुरक्षा खतरा’ है.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कोहली और धोनी को बनाया कप्तान, जानिए क्या है पूरा मामला

बीसीसीआई उपाध्यक्ष ने कहा कि उन्हें (एहसान मनी) को सबसे पहले अपने देश को देखना चाहिए. महिम ने एएनआई से कहा, ‘ सबसे पहले आपको अपने देश के बारे में सोचना चाहिए. हम अपने देश की सुरक्षा करने में सक्षम हैं.’

एहसान मनी वही व्‍यक्ति हैं जो फरवरी में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले और फिर सर्जिकल स्‍ट्राइक से पहले तक भारतीय टीम के साथ क्रिकेट खेलने को लेकर बीसीसीआई के पीछे-पीछे घूम रहे थे. उन्‍होंने बीसीसीआई को पाकिस्‍तान के साथ क्रिकेट खेलने के लिए पिछले साल एशिया कप के दौरान भी काफी मिन्‍नतें की थी, जिसे ठुकरा दिया गया था.

Year-Ender 2019: ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा के लिए बेमिसाल रहा ये साल, जानिए कैसे की रिकॉर्ड की बरसात

भारत के साथ क्रिकेट खेलने के लिए पाकिस्‍तान ने आईसीसी के समक्ष बीसीसीआई के खिलाफ मुकदमा भी किया था. इस मामले में उन्‍हें हार का सामना करने के साथ-साथ बाद में बीसीसीआई द्वारा मुकदमे में खर्च की गई राशि भी देनी पड़ी थी.

क्या कहा था एहसान मनी ने

श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज शांतिपूर्ण तरीके से कराने के बाद एहसान मनी ने कहा, ‘हमने यह साबित किया है कि पाकिस्‍तान पूरी तरह से सुरक्षित है. अगर कोई टीम यहां खेलने के लिए नहीं आ रही है तो उसे साबित करना होगा कि पाकिस्‍तान असुरक्षित है. आज के समय में पाकिस्‍तान की तुलना में भारत में सुरक्षा का ज्‍यादा खतरा है.’