पाकिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ी आमिर को 2010 में इंग्लैंड के खिलाफ लार्ड्स के मैदान पर मैच फिक्सिंग करने का दोषी पाया गया था जिसके बाद उनके उपर क्रिकेट खेलने पर बैन लगा दिया। अब बिचारे मोहम्मद आमिर के बैन की अवधि खत्म हो गई और वह वापसी की कोशिश कर रहा है। लेकिन एक घरे मैच के दौरान उन्हें एक घरेलू मैच में एक खिलाड़ी ने ‘चोर’ कहा। कायदे आजम ट्राफी क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में पीआईए और सुई सदर्न के बीच मैच दौरान आमिर बल्लेबाज फैसल इकबाल और पीआईए के अन्य खिलाड़ियों पर छींटाकशी कर रहा था।

एक सूत्र की माने तो आमिर मैच के दौरान फैसल और पीआईए के अन्य खिलाड़ियों पर छींटाकशी कर रहा था। जिसके बाद दोनों में इस बात को लेकर लम्बा विवाद खड़ा हो गया जो हालत काबू के बाहर हो गया तो उसकी करनी की याद दिलाकर चोर कहा आमिर ने बदले में उससे कहा कि अपने अंकल जावेद मियांदाद पर निर्भर रहने की बजाय अपने दम पर खेले। फिलहाल इस विवाद के बाद यह चोर कहने की बात अब सुर्ख़ियों में छा गई है।

पीआईए के फैसल इकबाल ने आमिर को चोर कहा। इस वाकये के बाद मैच रैफरी ने दोनों खिलाडियों पर जुर्माना लगा दिया। घटना के जानकारों का कहना है कि आमिर मैच के दौरान फैसल और पीआईए के अन्य खिलाडियों पर छींटाकशी कर रहा था। आमिर के हद पार करने के बाद फैसल ने उसे उसकी करनी की याद दिलाते हुए चोर कह दिया। फ़िलहाल पाकिस्तान में इस तरह का बयान कोई नई बात नही है इससे पहले भी पाक क्रिकेटर आपस में लड़ चुकें है।