इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB0 अगले महीने तीन टेस्ट मैचों के लिए वेस्टइंडीज (West Indies) टीम की मेजबानी कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की दोबारा शुरूआत करने जा रहा है। इसके बाद ईसीबी की योजना ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और आयरलैंड की मेजबानी करने की है। लेकिन इस बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चिकित्सा अधिकारी ने बयान दिया है कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान टीम का इंग्लैंड दौरा पाक टीम के लिए ‘बड़ा जोखिम’ हो सकता है। Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए पाकिस्तान ने कसी कमर; अभ्यास मैच में बाबर आजम ने जड़ा अर्धशतक

पीसीबी के चिकित्सा और खेल विज्ञान के महानिदेशक डा. सोहेल सलीम ने कहा, ‘‘महामारी के दौरान ये (दौरा) एक बड़ा जोखिम है। हमने ऐसा अनुभव (महामारी के दौरान खेलना) नहीं किया है, लेकिन दोनों टीमों के लिए ये नया अनुभव होगा। महामारी का मतलब ही खतरा होता है, लेकिन उन्हें (खिलाड़ियों) लोगों का मनोरंजन कराने वाला माना जाता है।’’ Also Read - उठाए चयन पर सवाल तो आर्चर बोले- अब तक क्‍यों नहीं बन पाए कोच ? विंडीज दिग्‍गज ने दिया ये जवाब

सलीम ने कहा कि यूरोप में फुटबॉल शुरू होने से उन्हें प्रोत्साहन मिला, जहां जर्मनी में बुंदेसलीगा और इंग्लैंड में प्रीमियर लीग के मैचों को खाली स्टेडियमों में खेला जा रहा। उन्होंने कहा, ‘‘फुटबॉल मैच के दौरान प्रशंसक नहीं रह रहे है और क्रिकेट स्टेडियमों में भी दर्शक नहीं होंगे। घर बैठे लोगों की चिंता का स्तर बढ़ रहा है, लेकिन क्रिकेट इसे कम कर सकता है।’’ Also Read - 'माता-पिता के साथ हुआ भेदभाव याद आ गया': नस्लवाद पर बात करते समय भावुक हुए माइकल होल्डिंग

पाकिस्तान की टीम रविवार को इंग्लैंड रवाना होगी, जहां उसे अगस्त-सितंबर में तीन टेस्ट और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय खेलना है। पीसीबी इस दौरे के लिए 29 खिलाड़ियों के दल को भेज रहा है ताकि कोरोना वायरस के चपेट में किसी के आने बाद उसके जगह दूसरे को टीम में शामिल किया जा सके।

सभी 29 खिलाड़ियों का यहां से लंदन रवाना होने से पहले दो बार कोविड-19 जांच होगा। टीम वहां जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में अभ्यास करेगी। सलीम ने कहा, ‘‘इंग्लैंड में हर पांच-सात दिन के बाद खिलाड़ियों की जांच की जाएगी।’’