अक्‍सर ये कहा जाता है कि रिकॉर्ड तो टूटने के लिए ही बनते हैं. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के शतकों का शतक हो या फिर अन्‍य कोई विश्‍व रिकॉर्ड, एक ना एक दिन सभी टूट जाएंगे लेकिन आईसीसी (ICC) द्वारा बनाए गए एक नियम के चलते अब पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेटर हसन रजा (Hasan Raza Debut) का रिकॉर्ड अब अटूट हो गया है. यानी भविष्‍य में कोई भी खिलाड़ी अब उनका रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाएगा. Also Read - Mayank Agarwal ने इजाद किया गेंद चमकाने का नया तरीका, थूक की जगह इस चीज का इस्‍तेमाल, सकते में ICC

दरअसल, आईसीसी ने हाल ही में ये ऐलान किया है कि अब कोई भी खिलाड़ी 15 साल से कम उम्र में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट नहीं खेल पाएगा. भले ही महिलाओं का क्रिकेट हो या फिर हो अंडर-19 क्रिकेट. आईसीसी केवल 15 साल या इससे अधिक उम्र के खिलाड़ी को ही अब अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलने की अनुमति देगा. केवल विशेष में संबंधित बोर्ड की सलाह के बाद ही किसी खिलाड़ी को कम उम्र में खेलने की अनुमति दी जा सकती है. Also Read - वाहब रियाज से कार रेस के चक्‍कर में खड़े ट्रक से टकराई Shoaib Malik की कार !

इस नए नियम के चलते पाकिस्‍तान के क्रिकेटर हसन रजा (Hasan Raza Debut) के डेब्‍यू का रिकॉर्ड अब अमर हो गया है. रजा ने 14 साल और 227 दिन की उम्र में जिम्‍बाब्‍वों के खिलाफ मैच के दौरान पाकिस्‍तान की टेस्‍ट टीम में डेब्‍यू किया था. Also Read - Sydney Racism: भारतीय क्रिकेटरों पर नस्लभेदी टिप्पणी पर भड़के जय शाह, बोले- भेदभावपूर्ण हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी

हसन रजा (Hasan Raza Debut) ने पाकिस्‍तान के लिए सात टेस्‍ट और 16 वनडे मुकाबले खेले हैं. टेस्‍ट क्रिकेट में दो और वनडे में एक अर्धशतक जड़ा है. उन्‍होंने बांग्‍लादेश की एक क्रिकेट वेबसाइट से बातचीत के दौरान आईसीसी के फैसले का स्‍वागत किया. उनहोंने कहा, “मैं आईसीसी के निर्णय का स्‍वगत इसलिए नहीं कर रहा हूं क्‍योंकि इससे मेरा रिकॉर्ड बरकरार रहेगा. कम उम्र में खिलाड़ी मानसिक रूप से परिपक्‍व नहीं होता.”

“जब मैंने डेब्‍यू किया था तब विंडीज टीम में खतरनाक तेज गेंदबाज कार्टनी वाल्‍श भी खेला करते थे. ऐसे में एक युवा बल्‍लेबाज के लिए उनका सामना काफी कठिन हो सकता है.”