ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍टार तेज गेंदबाज पैट कमिंस (Pat Cummins) ने बीते दिनों भारत में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Covid-19) के बीच ऑक्‍सीजन खरीदने के लिए पीएम केयर्स फंड (PM Care Funds) में 50 हजार डॉलर दान करने का निर्णय लिया था. इसके बाद वो भारत में रातों-रात हीरो बन गए. कमिंस ने ऐसी स्थिति में आईपीएल के आयोजन करने और ऑस्‍ट्रेलिया क्रिकेटर्स के बीच फैले डर के बारे में खुलकर अपनी बात रखी.Also Read - सऊदी अरब में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले, भारत समेत इन देशों में यात्रा करने पर लगा प्रतिबंध

जी न्‍यूज ग्रुप के चैनल वियोन से बातचीत के दौरान पैट कमिंस (Pat Cummins) ने कहा, “हम इस वक्‍त आईपीएल के मध्‍य में हैं जो भारत में आयोजित किया जा रहा है. बाहर स्थिति ज्‍यादा अच्‍छी नहीं है. मैं भारत में लंबे समय से खेल रहा हूं. यहां के लोग काफी अच्‍छे हैं. मेरे दिल में उनके लिए काफी सम्‍मान है. इसलिए मैंने उनके लिए थोड़ा बहुत कुछ करना चाहा. ” Also Read - अब सऊदी अरब नहीं जा पाएंगे इन 15 देशों के टूरिस्ट, जानिए वजह

“केकेआर में मेरी कई लोगों से बात हुई. मुझे पता चला कि बहुत सारे लोग पिछले साल पीएम केयर्स फंड में दान दे चुके हैं. शाहरुख खान और सलमान खान ने भी दान दिया. ऑस्‍ट्रेलिया में भी बहुत सारे लोग भारत की मदद करना चाहते हैं. ऐसे में हम यहां कुछ करना चाह रहे हैं ताकि यहां सीधा दान आ सके.” Also Read - कोरोना से हुई मौत के विवादित आंकड़े का मुद्दा WHO के सामने उठाएगा भारत

पैट कमिंस (Pat Cummins) से टूर्नामेंट को बीच में ही रोकने के संबंध में सवाल पूछा गया. उन्‍होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि ऐसा किया जाना चाहिए. एक पहलु ये है कि हम हर रात को 3-4 घंटे के लिए क्रिकेट खेल रहे हैं. हमारे खेलने से लोग क्रिकेट मैच देखने के लिए घर पर हैं और बाहर नहीं जा रहे हैं. लोगों के लिए भी घर पर रहना इतना आसान नहीं है. हम इस खेल के माध्‍यम से उनकी मदद कर रहे हैं.

पैट कमिंस (Pat Cummins) ने बायो-बबल की सुरक्षा और ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर्स में इसे लेकर डर के माहौल पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्‍होंने कहा, ” पिछले साल हमें बायो-बबल के अंदर के जीवन और इसमें रहते हुए क्रिकेट के आयोजन को लेकर बहुत कुछ जानने को मिला. अब एक साल हो गया है. हम खुशकिस्‍मत हैं कि ऐसे माहौल में खेल पा रहे हैं. हमने विदेशों का दौरा कर बायो-बबल में खुद को सुरक्षित महसूस किया. बिना फैन्‍स के मैदान में क्रिकेट खेला जा रहा है. ये सभी चीजें काफी मुश्किल हैं. मैं टूर्नामेंट के बीच में वापस अपने घर नहीं जाने वाला हूं. मुझे पता है कि मैंने क्‍या कांट्रेक्‍ट साइन किया है.”