कराची। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने टेस्ट बल्लेबाज उमर अकमल को कारण बताओ नोटिस भेजा क्योंकि उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्य कोच मिकी आर्थर ने लाहौर स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में हुई एक बहस के दौरान पर उनके साथ बदतमीजी की.

पीसीबी अधिकारी ने कहा कि अकमल को कारण बताओ नोटिस इसलिए भेजा क्योंकि उन्होंने अपने अनुबंध की शर्तों का उल्लघंन किया है जिसमें किसी भी खिलाड़ी को अधिकारियों की अनुमति के बिना मीडिया से बात करने पर रोक लगी हुई है.

अधिकारी ने कहा, ‘उन्हें (उमर) नोटिस का जवाब देने के लिए सात दिन का समय दिया गया है.’ जब अकमल से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि वह नोटिस का जवाब देंगे क्योंकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है.

उन्होंने कहा, ‘इसमें मेरी कोई गलती नहीं है इसलिए मैं चिंतित नहीं हूं और सच्चाई के साथ जवाब दूंगा. जो कुछ हुआ है, वह सब उन्होंने देखा है.’ अकमल ने दावा किया कि जब वह ट्रेनिंग और अभ्यास के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में गए थे तो आर्थर ने उनके साथ गलत बर्ताव किया था.

अकमल ने कहा, ‘मैं अपने उस बयान पर कायम हूं जिसमें मैंने आर्थर पर बदसलूकी का आरोप लगाया था. उन्होंने मेरे साथ पहले अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया और फिर बदसलूकी भी की. इंजमाम भाई (इंजमाम उल हक) और मुश्ताक भाई (मुश्ताक अहमद) इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी हैं.