नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड  की एंटी करप्शन यूनिट ने विकेटकीपर-बल्लेबाज उमर अकल को समन भेजा है. PCB ने यS समन बल्लेबाज द्वारा एक टीवी इंटरव्यू में इस बात को कूबल करने के बाद भेजा है कि उन्हें मैच फिक्स करने के प्रस्ताव मिले थे. उमर ने कहा था कि उन्हें खासकर 2015 में ICC वर्ल्ड कप में चिर प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ खेले जाने वाले मैच में भी ये प्रस्ताव मिला था. इटरव्यू में  उमर ने माना कि भारत और पाकिस्तान के बीच जब भी मैच हुए हैं उन्हें इस तरह के प्रस्ताव मिले हैं. उमर ने साथ ही कहा कि भारत के खिलाफ खेले जाने वाले मैचों के अलावा उन्हें हांककांग सुपर सिक्स, UAE में खेली गई पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान भी फिक्सिंग के प्रस्ताव मिले थे.

उमर का ‘विस्फोटक’ इंटरव्यू

उमर ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में खेले गए 2015 विश्व कप में भारत और पाकिस्तान को ग्रुप-बी में रखा गया था. इन दोनों टीमों ने ऐडिलेड ओवल में मैच खेला था जहां भारत ने पाकिस्तान को 76 रनों से मात दी थी. उमर ने कहा कि वो उस मैच में सिर्फ चार गेंद खेले थे और शून्य पर आउट हो गए थे. समा टीवी को दिए इंटरव्यू में उमर ने कहा, ‘मुझे वर्ल्ड कप में दो गेंदें छोड़ने को कहा गया था और इसके लिए वो मुझे 200,000 डॉलर देने को तैयार थे.’

उमर का बड़ा खुलासा

पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज रहे उमर ने कहा, ‘2015 विश्व कप में वो हमारा भारत के खिलाफ पहला मैच था. बल्कि जब भी मैंने भारत के खिलाफ मैच खेला है मुझे इस तरह के प्रस्ताव मिले हैं. मैंने उन लोगों से हालांकि कह दिया था कि मैं अपने देश के लिए खेलने को लेकर काफी गंभीर हूं और आप मुझसे इस मुद्दे पर दोबारा बात न करें.’

PCB ने भेजा समन

उमर के इस बयान के बाद से पीसीबी ने उनसे जबाव मांगा है.पीसीबी ने ट्विट कर लिखा, “उमर अकमल को नोटिस दे दिया गया है. उन्हें पीसीबी की एसीयू के सामने 27 जून तक पेश होने को कहा गया है.”

हरकत में ICC

इसी बीच ICC ने भी इस मामले में कदम रखा है और कहा है कि वो अकमल से तुरंत बात करना चाहती है. आईसीसी ने एक बयान में कहा, ‘आईसीसी उमर अकमल के हालिया इंटरव्यू से वाकिफ है. हालांकि इस बात के कोई संदेश नहीं हैं कि मैच फिक्स किया गया था. लेकिन हम इस बात को लेकर गंभीर हैं कि खिलाड़ी को अगर इस तरह के प्रस्ताव दिए जाते हैं तो वो समय पर इसकी जानकारी दे.’