पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी कराने में लगे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के चेयरमैन एहसान मनी (Ehsan Mani) का कहना है कि वो यूएई के अध्यक्ष के साथ मिलकर आईसीसी की छह आगामी प्रतियोगिताओं में से पांच के लिये संयुक्त बोली लगाने की योजना बना रहा है। Also Read - 39 साल के हुए विश्व कप नायक गौतम गंभीर; सोशल मीडिया पर फैंस ने दी शुभकामनाएं

बता दें कि साल 2009 में पाकिस्तान दौरे पर आई श्रीलंका टीम की बस पर हुए आतंकी हमले के बाद से इस देश में किसी आईसीसी टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हुआ है। पीसीबी 2023 से 2031 के बीच होने वाली आईसीसी प्रतियोगिताओं में बोली लगाने की कोशिश करेगा और वो इनमें से कम से कम एक या दो हासिल करने की उम्मीद कर रहा है। Also Read - जन्मदिन के मौके पर जानें भारतीय स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के संघर्ष की कहानी

मनी ने पीसीबी पोडकास्ट में कहा, ‘‘हमने छह में से पांच प्रतियोगिताओं की मेजबानी की इच्छा व्यक्त की थी और सच कहूं तो संभावना है कि हमें एक या दो से ज्यादा नहीं मिलें। लेकिन हमने इसके लिए एक अन्य देश के साथ संयुक्त रूप से बोली लगाने के बारे में सोचा है।’’ Also Read - Women's T20 Challenge: खिलाड़ियों को 13 अक्टूबर को मुंबई पहुंचने के लिए कहा गया, तैयारियों पर उठे सवाल

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड के साथ बात शुरू कर दी है ताकि एक साथ बोली लगाने से मेजबानी का मौका बढ़ जायेगा लेकिन इसके लिये सहयोग की जरूरत है। ’’