भारत और वेस्टइंडीज की क्रिकेट टीमें आगामी लिमिटेड ओवर की सीरीज के लिए कमर कस चुकी हैं. दोनों टीमों के बीच 3 टी-20 और इतने ही वनडे मैचों की सीरीज खेली जाएगी. दोनों टीमें मंगलवार को हैदराबाद पहुंच गईं जहां पहला टी-20 मैच खेला जाएगा.Also Read - IND vs NZ- आउट नहीं थे Virat Kohli, DRS के बावजूद अंपायर के गलत निर्णय पर भड़के एक्सपर्ट्स

Also Read - शनिवार को भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बड़ा फैसला लेगी BCCI; 9 दिसंबर को रवाना हो सकती है टीम

दूसरे T20 में आशंका बारिश की लेकिन रनों की ‘बरसात’ तय Also Read - IND vs NZ: DRS पर भी अंपयार के गलत निर्णय का शिकार हुए Virat Kohli, देखें Video

मेहमान विंडीज टीम के कोच फिल सिमंस का कहना है कि उनके गेंदबाजों को टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से ‘ज्यादा भयभीत’ होने से बचना होगा क्योंकि इससे भारतीय कप्तान को आउट करने का मुश्किल काम और कठिन हो जाएगा.

कोहली को आउट करने को ‘मुश्किल’ करार करते हुए सिमंस ने हंसते हुए भारतीय बल्लेबाज को आउट करने के कुछ अजीबोगरीब तरीके बताए. सीरीज की शुरुआत 6 दिसंबर से होगी.

बकौल सिमंस, ‘एक तो मैं उन्हें स्टंप से बल्लेबाजी करा सकता हूं. दूसरा, हम एक किताब पर हस्ताक्षर करें और वनडे में उन्हें 100 रन दे सकते हैं और बाकी खिलाड़ियों को गेंदबाजी करके आउट कर सकते हैं या फिर हम सुनिश्चित करें कि उनके खिलाफ हमारी योजना कारगर रहे.’

‘गेंदबाज विराट से ज्यादा डरें नहीं’

उन्होंने कहा, ‘हम सुनिश्चित कर सकते हैं कि गेंदबाज उससे ज्यादा भयभीत नहीं हों. लेकिन आपको नहीं पता कि क्या हो सकता है लेकिन विराट कोहली को आउट करना मुश्किल काम है.’

सिमंस ने स्वीकार किया कि भारत को दुनिया में कहीं भी हराना आसान नहीं है. 56 वर्षीय पूर्व ऑलराउंडर सिमंस ने कोहली एंड कंपनी को आउट करने के लिए अपने खिलाड़ियों को बीते अनुभव का इस्तेमाल करने की ताकीद की.

उन्होंने कहा, ‘पिछले साल हमने भारत में कुछ टी-20 और वनडे खेले थे और हम उनसे इतने ज्यादा अलग नहीं थे. एक मैच ऐसा भी रहा था जो शायद टाई रहा था. इसलिए हम उनकी तुलना में इतने ज्यादा अलग नहीं थे.’

इंग्लैंड को वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले इयोन मोर्गन को मिली अब इस टीम की कप्तानी

उन्होंने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ से कहा, ‘हमें देखना होगा कि हमने तब क्या किया था और अब हम उसमें क्या चीज अतिरिक्त कर सकते हैं क्योंकि उन्होंने भी अपने खेल में सुधार किया है. हमें सुनिश्चित करना होगा कि हम पिछली बार से बेहतर करें क्योंकि भारतीय टीम इतनी आसान नहीं है. ‘इंडिया इज इंडिया’.’

तीन मैचों की टी-20 सीरीज के बाद वनडे सीरीज खेली जाएगी.