न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ जुलाई 2019 में इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप सेमीफाइनल मैच के बाद से टीम इंडिया (Team India) से बाहर चल रहे महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के राष्ट्रीय टीम में लौटने की आखिरी उम्मीद भी खतरे में है। Also Read - हरभजन सिंह चाहते हैं कि आईपीएल का आयोजन हो लेकिन.....

जैसा कि कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा था आगामी टी20 विश्व कप के लिए धोनी का टीम में चयन इंडियन प्रीमियर लीग में उनके प्रदर्शन पर निर्भर है लेकिन कोरोना वायरस के चलते आईपीएल के 13वें सीजन पर रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में पूर्व कप्तान के टीम इंडिया में लौटने पर भी संशय है। Also Read - क्‍या बिना दर्शक IPL के खिलाफ हैं विराट कोहली, बोले- स्‍टेडियम की असली ताकत होते हैं वहां मौजूद फैन्‍स

वहीं पूर्व क्रिकेटर मदन लाल ने इसका पूरा जिम्मा चयनकर्ताओं पर छोड़ा है। लाल ने कहा, “धोनी को चुनना चयनकर्ताओं का काम है। मुझे नहीं पता कि वो इस समय क्या सोच रहे हैं।” Also Read - इस्‍कॉन मंदिर के साथ मिलकर सौरव गांगुली ने किया 10 हजार अतिरिक्‍त लोगों के खाने का इंतजाम

‘पहले सभी को चाहिए था आक्रामक कप्तान और अब चाहते हैं कि शांत रहे कोहली’

पूर्व भारतीय गेंदबाज रुद्र प्रताप सिंह और सुलक्षणा नाइक से साथ चयनकर्ताओं की नियुक्ति करने वाली सीएसी टीम का हिस्सा रहे लाल का कहना है कि सुनील जोशी नई चयनसमिति के प्रमुख बनने के लिए सबसे सही उम्मीदवार हैं। उन्होंने कहा, “सभी उम्मीदवारों में से वो (सुनील जोशी) मुख्य चयनकर्ता के पद से लिए सर्वश्रेष्ठ हैं।”