भारतीय क्रिकेट टीम ने बांग्लादेश के खिलाफ अपने पहले डे-नाइट टेस्ट को जीतकर दो मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप कर लिया. कोलकाता के ईडन गार्डन में पिंक बॉल से खेले गए इस टेस्ट मैच में भारतीय तेज गेंदबाजों का बोलबाला रहा.

लगातार 4 टेस्ट पारी के अंतर से जीत विराट कोहली ने रचा इतिहास

तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने मैच में 9 जबकि उमेश यादव ने 8 विकेट चटकाए. मोहम्मद शमी के खाते में 2 विकेट गए. कुल मिलाकर पिंक बॉल से बांग्लादेश के जो 19 विकेट गिरे वो सभी भारतीय तेज गेंदबाजों के नाम रहे.

दूसरी बार किसी टेस्ट में भारतीय पेसर्स ने 19 विकेट अपने नाम किए

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में दूसरा मौका है जब भारतीय पेसर्स ने किसी एक टेस्ट मैच में 19 विकेट अपने नाम किए हैं. इससे पहले भारतीय तेज गेंदबाजों ने इंग्लैंड के खिलाफ 2018 में ट्रेंट ब्रिज टेस्ट मैच में 19 विकेट निकाले थे. किसी एक टेस्ट मैच में सभी 20 विकेट झटकने का कारनामा भारतीय पेसर्स ने 2017/18 में दक्षिण अफ्रीका के  खिलाफ जोहांसबर्ग में किया था.

मेहमान बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया. लेकिन मोमिनुल के इस फैसले पर मेजबान टीम के तेज गेंदबाजों ने पानी फेर दिया. नतीजतन बांग्लादेश की टीम पहली पारी में 106 रन पर ढेर हो गई.

भारत ने Day-Night टेस्ट में बांग्लादेश को पारी और 46 रन से रौंदा, सीरीज पर 2-0 सेे कब्जा

भारतीय पेस अटैक की रफ्तार के आगे पहली पारी में बांग्लादेश के चार बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सके. टीम इंडिया की ओर से पहली पारी में 31 वर्षीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने 22 रन देकर 5 विकेट अपने नाम किए जबकि उमेश यादव ने 3 वहीं मोहम्मद शमी ने 2 विकेट अपने नाम किए.

बांग्लादेश का दूसरी पारी में भी हाल कमोबेश पहली पारी की तरह ही रहा. हालांकि पूर्व कप्तान मुशफिकुर रहीम (74) की संयमित पारी के दम पर बांग्लादेश की टीम दूसरी पारी में 195 रन बनाने में जरूर सफल रही लेकिन वह पारी की हार नहीं टाल सकी.

भारत की ओर से दूसरी पारी में उमेश यादव ने 53 रन देकर 5 जबकि इशांत ने 56 रन देकर 4 विकेट चटकाए.