खेल मंत्री किरिन रिजिजू का कहना है को मौजूदा हालात में खिलाड़ी ओलंपिक खेलों को लेकर चर्चा ना करें क्योंकि ये इस विषय पर बात करने का सही समय नहीं है। खेल मंत्री की ये टिप्पण भारत में बढ़ रहे कोरोना वायरस मामलों की तरफ इशारा करती है। Also Read - Coronavirus Lockdown: लॉकडाउन में ऐसे बिताएं पार्टनर संग क्वालिटी टाइम, बढ़ेगा प्यार

नई दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन के दौरान उन्होंने कहा, “अभी इस समय किसी खिलाड़ी को ओलंपिक को लेकर मुद्दा नहीं बनाना चाहिए क्योंकि कोई नहीं जानता की तीन महीने बाद क्या होना है। तब क्या स्थिति होगी ये कोई नहीं जानता। हमें अंतर्राष्ट्रीय बॉडी से मिल रहे निर्देशों के हिसाब से काम करना चाहिए।” Also Read - बिहार सरकार का बड़ा कदम, राज्य से बाहर फंसे इतने लाख लोगों के खाते में जमा करवाए एक हजार रुपये

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने खिलाड़ियों को बिना परेशान हुए टोक्यो ओलंपिक-2020 की तैयारी करने के लिए प्रेरित किया है जिसका कई खिलाड़ियों ने ये कहते हुए विरोध किया है कि आईओसी उनके स्वास्थ के जोखिम ले रही है। भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी पारूपल्ली कश्यप उनमें से एक हैं जिन्होंने आईओसी की आलोचना की थी। Also Read - खेल जगत पर कोरोना का प्रहार- स्टार फुटबॉलर की मां का निधन

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने किया स्‍पष्‍ट, 15 अप्रैल के बाद ही IPL आयोजन पर होगा फैसला

ओलम्पिक की शुरुआत 24 जुलाई से होनी है, लेकिन कोरोनावायरस के कारण कुछ पाबंदियां लगा दी गई हैं। भारत में भी खेल मंत्रालय ने गुरुवार को नई सूचना जारी करते हुए 15 अप्रैल तक सभी तरह की खेल गतिविधियों पर रोक लगा दी है।

भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार रात दिए अपने भाषण में लोगों से अपील की है कि वो रविवार को सुबह 7 से रात 9 बजे तक बाहर ना जाएं। साथ ही एक जगह पर एकट्ठा होने से बचे।